बुलंदशहर, [सर्वेंद्र पुंडीर]। गोवंश की सूचना के बाद हिंसा में स्याना के इंस्पेक्टर सुबोध कुमार सिंह की हत्या के मामले में नया मोड़ आ गया है। इस हत्या के आरोप में सैनिक जितेंद्र मलिक उर्फ जीतू फौजी को गिरफ्तार किया गया है, जबकि एक फुटेज के बाद नया चेहरा सामने आया है। हिंसा की बड़ी वारदात कन्या पीजी कॉलेज के सीसीटीवी कैमरे में कैद है।
चिंगरावठी का रहने वाला
बुलंदशहर हिंसा में इंस्पेक्टर सुबोध कुमार सिंह को गोली मारने वाले का नाम और चेहरा एसआइटी और जांच एजेंसियों के सामने आ गया है। यह युवक चिंगरावठी गांव का रहने वाला है। जिस समय सुमित को गोली लगी, उसी समय इस आरोपित ने इंस्पेक्टर की रिवाल्वर छीनकर गोली चलाई थी। यह गोली इंस्पेक्टर की आंख के ऊपरी हिस्से को पार करते हुए दिमाग में जा घुसी। जिसके बाद इंस्पेक्टर की मौत हो गई थी। इस पूरे मामले में सोमवार को एक और सीसीटीवी की फुटेज सामने आई है। 
एसआइटी की जांच 
मेरठ रेंज के आइजी रामकुमार के नेतृत्व में जांच कर रही एसआइटी इस मामले में चमन, देवेंद्र, जीतू फौजी, रोहित, सोनू, चंद्रपाल, जितेंद्र उर्फ लाला गुर्जर, कुलदीप त्यागी को जेल भेज चुकी है। इन सभी के एसआइटी ने लिखित में बयान दर्ज किए व अलग-अलग पूछताछ की। इसमें इंस्पेक्टर को गोली मारने में केवल चिंगरावठी के एक युवक का नाम सामने आया। हालांकि यह युवक नामजद नहीं है। पुलिस के जारी वाट्सएप नंबर पर भेजे गए एक वीडियो में साफ दिख रहा है कि पांच युवक कोतवाल को घेरे हुए है। इन पांच युवकों में से तीन युवक चिंगरावठी के है और दो महाव गांव के रहने वाले हैं। इस वीडियो में दिख रहा है कि सुमित को गोली लगने के बाद यह युवक उग्र हो गया और कोतवाल का रिवाल्वर छीनकर गोली मार दी।
एसटीएफ और क्राइम ब्रांच को युवक की तलाश
चिंगरावठी के युवक की तलाश में एसटीएफ और क्राइम ब्रांच बुलंदशहर की टीम को लगाया गया है। कल ही गांव में कई बार दबिश दी गई, लेकिन उसके मकान पर ताला लगा मिला। पूरा परिवार गायब बताया गया है। 
अब स्कूल की सीसीटीवी फुटेज हुई वायरल
चिंगरावठी पुलिस चौकी से कुछ ही दूरी पर दिलावरी देवी कन्या पीजी कॉलेज है। इस कॉलेज के मुख्य गेट पर सीसीटीवी कैमरा लगा है। तीन दिसंबर को हुई हिंसा इस कालेज के गेट पर लगे कैमरे में कैद है। जिसमें इंस्पेक्टर दौड़ते हुए नजर आ रहे हैं। भीड़ भी दौड़ते हुए दिख रही है। 
जल्द ही गिरफ्त में होगा आरोपित
एडीजी मेरठ जोन, प्रशांत कुमार ने कहा कि हमने एक नंबर जारी किया था। जिस पर कई वीडियो उपलब्ध हुए। इंस्पेक्टर को गोली मारने वाले की तलाश अभी चल रही है। जल्द ही वह हमारी गिरफ्त में होगा।

Posted By: Ashu Singh

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस