बुलंदशहर, जेएनएन। प्रदेश सरकार ने कानून-व्यवस्था दुरुस्त करने के लिए अपर पुलिस महानिदेशक पुलिस अकादमी मुरादाबाद राजीव कृष्ण को बुलंदशहर जिले का नोडल अधिकारी नियुक्त किया है। मंगलवार को उन्होंने जिले के अधिकारियों के साथ बैठक की। उन्होंने घूमकर शहर का हाल जाना। कहा कि कानून व्यवस्था बिगड़ी तो अफसरों की खैर नहीं।

सुबह शहर में पहुंचे एडीजी ने सबसे पहले जिलाधिकारी रविद्र कुमार और एसएसपी संतोष कुमार सिंह के साथ बैठक की। इसके बाद एसपी क्राइम शिवराम यादव, एसपी देहात हरेंद्र कुमार और सभी सीओ और थाना प्रभारियों के साथ बैठक की। इस दौरान एडीजी ने साफ किया कि अब सरकार कानून व्यवस्था को लेकर कोई लापरवाही बर्दाश्त नहीं करेगी। इसलिए पुलिस अपने-अपने क्षेत्र में रात में गश्त बढ़ाए। आम लोगों को अपने विश्वास में ले। घटना होने पर उच्च अधिकारियों को बताया जाए। घटना क्यों हुई, किसकी लापरवाही रही इसका भी उल्लेख किया जाए। उन्होंने लंबित विवेचनाओं को भी गंभीरता से लेने का आदेश दिया।

पैदल घूमकर जानी कानून व्यवस्था

एडीजी ने नगर कोतवाली क्षेत्र के अंसारी रोड, सराफा बाजार आदि का पैदल ही भ्रमण किया। इस दौरान उन्होंने आम लोगों, स्वर्णकारों और अन्य दुकानदारों से भी समस्याएं पूछीं।

पुलिस लाइन का किया निरीक्षण

नोडल अधिकारी ने रिजर्व पुलिस लाइन का भी निरीक्षण किया। एसएसपी से कुछ कमियों को दुरुस्त करने को कहा। हालांकि पुलिस लाइन में एक दिन पहले ही साफ-सफाई करा दी गई थी।

थाने में नहीं पहुंचा एक भी फरियादी

पुलिस लाइन में मीटिग के बाद एडीजी सिकंदराबाद थाने पहुंच गए। थाने में कोई कमी नहीं मिली। हालांकि एडीजी के सामने एक भी फरियादी नहीं पहुंचा। थाना पुलिस ने पहले ही कई सिपाहियों को गेट पर खड़ा कर दिया था ताकि कोई भी फरियादी आए तो उसे बाहर ही रोक लिया जाए।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस