बुलंदशहर : लोगों को अकाल मृत्यु का शिकार बना रहे रहस्यमयी बुखार का मामला लखनऊ तक पहुंच गया है। जिले में अब तक होने वाली मौतों की हकीकत जानने के लिए आज एक टीम लखनऊ से बुलंदशहर आ रही है। बुखारग्रस्त गांवों का दौरा करने के साथ ही ये टीम बुखार से मरने वाले लोगों की रिपोर्ट जांचेगी और पीड़ित परिवारों से भी मरने वाले लोगों की बीमारी की जानकारी करेगी।

बुखार से अब तक जिलेभर में तीस से अधिक लोगों की मौत हो चुकी है। इसमें बच्चे, युवा, महिला, बुजुर्ग सभी आयुवर्ग के लोग शामिल हैं। बुखार और रहस्यमय बीमारी से मरने वाले लोगों और बुखार कंट्रोल न होने का मामला लखनऊ तक पहुंचा तो शासन ने इस पर स्वत: संज्ञान लिया। बुखार की चपेट में आए कई बच्चों की भी मौत हुई थी। स्थानीय स्वास्थ्य अधिकारी इन मौतों को बुखार से होने से इंकार कर रहे हैं और यहां मौत का सिलसिला बदस्तूर जारी है। लगातार मौत होने और हजारों लोग बुखार पीड़ित होने का मामला शासन तक पहुंचने के बाद टीम गठित कर भेजी जा रही है। सीएमएस डा. रामबीर ¨सह ने बताया कि टीम दोपहर तक पहुंच जाएगी। जिन गांवों में बुखार फैला है। उन गांवों के साथ ही मरने वाले लोगों की रिपोर्ट का टीम पता करेगी और जिला अस्पताल में भर्ती बुखार पीड़ित रोगियों का हाल जानने के बाद उपचार कर रहे डाक्टरों से बात करेगी। पूरी रिपोर्ट बनाने के बाद टीम शासन को सौंपेगी। सीएमएस का कहना है कि अब तक जितनी मौतें हुई हैं, उनके कारण अलग-अलग हैं। बुखार से किसी मौत की पुष्टि नहीं हुई है।

Posted By: Jagran