बुलंदशहर, जेएनएन। कोतवाली पुलिस को कुछ दिन पहले सूचना मिली थी कि जिले में पुलिस और फौज में भर्ती कराने वाला गिरोह सक्रिय है। मामले की गंभीरता से जांच की गई तो कुछ लोगों के नाम सामने आए। बुधवार तड़के करीब तीन बजे पुलिस ने घेराबंदी कर काले आम चौराहे के पास एक कार को रोका। कार में तीन लोग सवार थे। कार की तलाशी लेने पर कई संदिग्ध कागजात पुलिस को बरामद हुए। पूछताछ में आरोपितों ने बताया कि इन्‍होंने फर्जी तरीके से कई लोगों को सेना में भर्ती कराया है।

पुलिस ने बरामद किए कागजात

तीनों आरोपितों से कोतवाली में ले जाकर पूछताछ की गई तो प्रवीण भारद्वाज निवासी बुलंदशहर, देवेंद्र शर्मा निवासी बागपत और नवीन कुमार निवासी अलीगढ़ के पास पुलिस और फौज में भर्ती कराए गए कुछ युवकों के कागजात बरामद हुए हैं। आरोपितों ने पूछताछ में बताया कि अभी तक वह कई युवकों को पुलिस और फौज में भर्ती करा चुके हैं और कई युवकों के फर्जी कागजात भी उन्होंने तैयार किए हैं।

पूरा गिरोह कर रहा था काम

आरोपितों का पूरा गिरोह है। जिसमें कुछ लोग सेना में भी हैं। फिलहाल आरोपितों से कोतवाली पुलिस पूछताछ कर रही है। इस मामले में दस लोगों के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया गया है। आरोपितों में तीन भारतीय थल सेना में हवलदार भी बताए जा रहे हैं, हालांकि अभी इस संबंध में पुलिस का कोई अधिकारी कुछ भी कहने से बच रहा है 

Posted By: Prem Bhatt

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस