बुलंदशहर, जेएनएन। अयोध्या में राम मंदिर के भूमि पूजन को लेकर जिले में कोई अप्रिय घटना न हो, इसके लिए बुधवार को चप्पे-चप्पे पर फोर्स तैनात रहा। शहर के सभी चौराहों पर सघन चेकिग अभियान चलाया गया। इस दौरान कार और बड़े वाहनों के चालकों से पूछताछ और उनकी आइडी प्रूफ भी देखी गई। वहीं, जिलाधिकारी रविंद्र कुमार और एसएसपी संतोष कुमार सिंह ने जिलेभर में घूमकर सुरक्षा व्यवस्था का जायजा लिया। बुलंदशहर के अलावा खुर्जा, गुलावठी, सिकंदराबाद आदि स्थानों पर दोनों अधिकारियों ने पैदल मार्च भी निकाला।

बुधवार को जैसे ही प्रधानमंत्री का कार्यक्रम अयोध्या में शुरू हुआ। वैसे ही जिले के अधिकारियों ने भी सड़क पर उतरकर सुरक्षा व्यवस्था का जायजा लिया। शहर के काला आम चौराहा, भूड़ चौराहा, अंसारी रोड चौराहा, शिकारपुर तिराहे पर भी पहुंचकर डीएम और एसएसप ने फोर्स को संबोधित किया। इस दौरान बताया गया कि वह सार्वजनिक रूप से कोई भी कार्यक्रम नहीं होने देना है। फोर्स को बताया गया कि वह लोगों से अपील करें कि अपने घरों में ही दीये जलाए या फिर कुछ और करें, लेकिन सड़क पर या सार्वजनिक स्थानों पर कुछ नहीं करने दिया जाएगा। खुफिया विभाग भी रहा अलर्ट

जिलाधिकारी रविंद्र कुमार और एसएसपी संतोष कुमार सिंह ने दो दिन पहले ही खुफिया विभाग को भी अलर्ट कर दिया था। इसलिए हर एक घंटे बाद एसएसपी खुफिया विभाग के अधिकारियों से बात करते हुए नजर आए। वहीं, खुद मेरठ जोन के आइजी प्रवीण कुमार भी पूरी तरह से सक्रिय दिखे। बता दें कि लल्ला बाबू चौराहा, कसाईवाड़ा चौराहा, सर्राफा बाजार और काले आम पर अधिक सतर्कता बरती गई।

Posted By: Jagran

इंडियन टी20 लीग

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस