बुलंदशहर, जेएनएन। डिबाई में एक विवाहिता ने ससुरालजनों द्वारा प्रताड़ित करने व अतिरिक्त देहज की मांग करने पर एसएसपी को प्रार्थना पत्र दिया है।

थाना छतारी के गांव निवासी एक विवाहिता ने एसएसपी को दिए प्रार्थना पत्र में ससुराल पक्ष के पांच लोगों के खिलाफ दहेज उत्पीड़न की रिपोर्ट दर्ज कराई है। दर्ज कराई रिपोर्ट में बताया कि उसकी शादी करीब एक वर्ष पूर्व कोतवाली के गांव निवासी एक युवक के साथ हुई थी। शादी में करीब तीन लाख रूपये खर्च किए थे। आरोप है कि दिए गए दान दहेज से विवाहिता के ससुराल पक्ष के लोग खुश नही थे तथा अतिरिक्त दहेज के रूप में एक लाख रूपये की नगदी व एक मोटरसाइकिल की मांग करने लगे। आरोप है कि मांग पूरी न होने पर विवाहिता के साथ मारपीट व उत्पीड़न करने लगे। विवाहिता ने दर्ज कराई रिपोर्ट में बताया कि बीते माह मई को उसके ससुराल पक्ष के लोग उसे कार में बिठाकर उसके गांव के बाहर छोड़ गए तथा मारपीट करते हुए उसके गले में मौजूद चुन्नी से गला दबाकर जान से मारने का प्रयास किया। विवाहिता ने पति सहित ससुराल पक्ष के पांच लोगों के खिलाफ मामले की रिपोर्ट दर्ज कराई है। पति समेत पांच पर दहेज उत्पीड़न का मुकदमा

अहमदगढ़: क्षेत्र के गांव उटरावली निवासी अफसर पुत्र मोहम्मद अली ने एसएसपी को दिए गए शिकायती पत्र में बताया कि उसने अपनी बहन शकीला की शादी आठ मार्च 2020 को थाना नरसेना क्षेत्र के गांव दौलतपुर निवासी चांद मोहम्मद पुत्र आरिफ के साथ हुई थी। शादी में दान दहेज दिया था। शादी के छह माह बाद ससुराल जनों ने दहेज में एक लाख रुपए की और मांग शुरू कर दी। मांग पूरी न होने पर उत्पीड़न शुरू कर दिया। बीते माह 24 जून को शकीला अपने घर अकेली थी तभी उसके जेठ ने दुष्कर्म का प्रयास किया। एक जुलाई को मारपीट कर पति चांद मोहम्मद तीन तलाक देकर घर से भगा दिया। थाना प्रभारी निरीक्षक वीरेंद्र कुमार शर्मा का कहना है कि एसएसपी के निर्देश पर पति चांद मोहम्मद, सास, ससुर, जेठ, देवर, नन्द के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर लिया है।

Edited By: Jagran