जेएनएन, बुलदंशहर। छह जनवरी को आ‌र्म्स एक्ट के तहत अस्थायी जेल में पहुंचा बंदी जाहिद बुधवार दोपहर फरार हो गया। दरियापुर स्थित सैंफोर्ड स्कूल में चल रही अस्थायी जेल में बंदी रक्षकों से नजर बचा कर बंदी फरार हो गया। जेल प्रशासन व पुलिस घटना को छिपाए रही, लेकिन गुरुवार को अचानक घटना उजागर हो गई। जेल अधीक्षक ने रिपोर्ट दर्ज करा दी है। पुलिस टीम आरोपित की तलाश में जुटी है।

जेल अधीक्षक ओपी कटियार ने बताया कि छह जनवरी को थाना ककोड़ पुलिस ने जाहिद पुत्र छोटे उर्फ जावेद निवासी 20 फुटा रोड सोमना थाना पहासू को आ‌र्म्स एक्ट के तहत अस्थायी जेल लाया गया था। अस्थायी जेल दरियापुर स्थित सैंफोर्ड स्कूल में बनाई गई थी। कोरोना की वजह से जेल आने वाले बंदियों को शुरुआत में यहीं रखा जाता है। बुधवार शाम को जावेद अचानक फरार हो गया। शाम को जब गिनती हुई तो पता चला। अस्थायी जेल परिसर में उसकी तलाश की गई, लेकिन कुछ पता नहीं चला। टीम भेज कर उसके गांव में भी पता कराया गया, लेकिन जावेद घर भी नहीं पहुंचा। जेल से बंदी के फरार होने का पता चला तो हड़कंप मच गया। एसपी सिटी, सीओ व थाना पुलिस तुरंत पहुंच गई। हर संभव जगह तलाश कराया, लेकिन कुछ भी पता नहीं चल सका। एसपी सिटी सुरेंद्र नाथ तिवारी ने बताया कि जेल अधीक्षक की तहरीर पर बंदी के फरार होने की रिपोर्ट थाना कोतवाली देहात में दर्ज की गई है। आरोपित की तलाश के लिए थाना पुलिस के साथ क्राइम ब्रांच को लगाया गया है। स्वजन पर कड़ी नजर

अस्थायी जेल से भागा बंदी जावेद के आपराधिक इतिहास को भी खंगाला जा रहा है। इसके स्वजन पर तो नजर रखी ही जा रही है, साथ ही उनके मोबाइल नंबरों को भी खंगाला जा रहा है। कुछ नंबरों को सर्विलांस पर लेकर भी जावेद को पकड़ने का प्रयास किया जा रहा है। - मनोज मिश्रा

kumbh-mela-2021

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप