बुलंदशहर, जेएनएन। जहां एक ओर पिछले कई दिनों से मौसम आंख मिचौली का खेल खेल रहा है। कभी तेज हवाओं के साथ बारिश तो कभी बारिश के साथ हल्की ओलावृष्टि हो रही है। लेकिन शुक्रवार दोपहर नगर-क्षेत्र में अचानक तेज बारिश के साथ ओलावृष्टि होने लगी। देखते ही देखते नगर के अधिकतर मार्ग जलमग्न हो गये। लगभग एक घंटा हुई बारिश से नगर के अधिकतर मार्गो पर पानी भर गया। वहीं तेज बारिश के साथ हुई ओलावृष्टि से फसलों को भी भारी नुकसान है। वहीं, मौसम में भी ठंड बढ़ गई। ग्राम बड्ढा बाजिदपुर निवासी बाग स्वामी ने मोनू त्यागी ने बताया कि तेज बारिश के साथ हुई ओलावृष्टि से आम के बागों को काफी नुकसान हुआ है। ओलावृष्टि से पेड़ पर लगा बौर काफी हद तक गिर गया। जिससे आम की फसल को काफी नुकसान हुआ है। किसान कैप्टन यशवीर सिंह ने बताया कि पहले ही बारिश व ओलावृष्टि से किसानों की गेहूं व सरसों आदि की फसल को भारी नुकसान हुआ था। रही-सही कसर शुक्रवार को पूरी हो गई। गेहूं और सरसों की फसल पूरी तरह नष्ट हो गई है। भाकियू नेता मांगेराम त्यागी ने कहा कि सरकार तत्काल बारिश और ओलावृष्टि से नष्ट हुई फसलों का प्रशासनिक अधिकारियों द्वारा सर्वेक्षण कराकर किसानों को मुआवजा दे। कहा कि अगर सरकार किसानों की नष्ट फसलों को जल्द मुआवजा नहीं देगी तो भाकियू आंदोलन को विवश होगी।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस