बुलंदशहर, जागरण संवाददाता। सिकंदराबाद पुलिस ने गुरुवार की रात निजामपुर पुलिया के समीप से अवैध असलाह तस्कर गिरोह के तीन बदमाशों को गिरफ्तार किया है जबकि उनके दो साथी मौके से भाग गए। पुलिस ने बदमाशों से तीन पिस्टल व कारतूस बरामद किए हैं। 

पुलिस लाइन सभागार में शुक्रवार को एसपी सिटी सुरेंद्र नाथ तिवारी ने बताया कि गुरुवार की रात सिकंदराबाद पुलिस गश्त कर रही थी। पुलिस टीम को सूचना मिली कि तीन तस्कर अवैध हथियार सप्लाई करने जा रहे हैं। पुलिस टीम ने निजामपुर पुलिया के समीप से तीनों को दबोच लिया। जबकि अंधेरे का फायदा उठा कर उनके दो साथी मौके से फरार हो गए। 

हरियाणा में भी दर्ज हैं मुकदमे

पूछताछ में बदमाशों की शिनाख्त जोनी उर्फ देवेन्द्र पुत्र महेश निवासी निजामपुर थाना सिकंदराबाद व ललित शर्मा पुत्र देवपाल शर्मा निवासी यमुनापुरम थाना कोतवाली देहात तथा आकाश उर्फ निखिल पुत्र इन्द्राज निवासी निजामपुर थाना सिकंदराबाद के रूप में हुई। 

पुलिस ने तीनों बदमाशों के पास तीन पिस्टल व कारतूस बरमाद किए। एसपी सिटी ने बताया कि तीनों गैर प्रांतों में अवैध असलाह की सप्लाई करते हैं। इनके से एक बदमाशा जोनी के खिलाफ हरियाणा में भी मुकदमा दर्ज हैं। जिसकी जानकारी कराई जा रही है। तीनों बदमाशों पर चार-चार मुकदमे दर्ज हैं।

यशोदा अस्पताल संचालक पर दर्ज कराई रिपोर्ट

बुलंदशहर। ईदगाह रोड स्थित यशोदा अस्पताल पर सील लगाने के बाद संचालन किए जाने पर एफआइआर दर्ज कराई गई है। झोलाछाप पर कार्रवाई को गठित टीम में शामिल सिटी मजिस्ट्रेट, सीओ और एसीएमओ बुधवार को ईदगाह रोड पर स्थित यशोदा अस्पताल पर पहुंचे थे। 

निरीक्षण में टीम को काफी अनियमितता मिली। इस पर टीम ने अस्पताल को सील करा दिया। अब शुक्रवार को एसीएमओ डा. बसंत राम की तहरीर पर कोतवाली नगर पुलिस ने कार्रवाई की है। इंडियन मेडिकल काउंसिल एक्ट 15(3) और आइपीसी की 175, 176, 420 धाराओं के तहत अस्पताल संचालक डा. नीरज कुमार पर एफआइआर दर्ज की है।

Edited By: Shivam Yadav