जेएनएन, बिजनौर। शहर में एक युवक की पत्थर से कुचलकर हत्या कर दी गई। पहचान छिपाने के लिए उसका शव जला दिया। शुक्रवार सुबह शव मिलने से क्षेत्र में सनसनी फैल गई। युवक का भाई संप्रदाय विशेष की किशोरी को भगा कर ले गया था, जो अभी जेल में बंद है। मृतक के भाई ने पिता-पुत्र समेत पांच पर हत्या का मुकदमा दर्ज कराया है।

शुक्रवार सुबह शहर के बुखारा रोड स्थित झालू बस स्टैंड के पास खाली प्लॉट में एक युवक की जली हुई लाश मिली। शव के पास खून से सना एक पत्थर पड़ा था। युवक की हत्या पत्थर से चेहरा और सिर पीट-पीटकर की गई थी। एसपी सिटी लक्ष्मी निवास मिश्र, सीओ सिटी कुलदीप गुप्ता और शहर कोतवाल राजेश सोलंकी ने मौके पर पहुंच कर पड़ताल की। डॉग स्क्वायड ने भी घटनास्थल का निरीक्षण किया। पोस्टमार्टम हाउस पर स्वजन ने शव की पहचान शिवम पुत्र रामगोपाल निवासी मोहल्ला बडवान शहर कोतवाली के रूप में की। शिवम की हत्या से स्वजन में कोहराम मच गया। शिवम के भाई वासु ने बताया कि उसका भाई सागर पड़ोस से संप्रदाय विशेष की एक लड़की को ले गया था। पुलिस ने पांच माह पूर्व उसके भाई को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया था और लड़की को स्वजन को सौंप दिया था। अभी सागर जेल में बंद है। शिवम अपने भाई सागर की पैरवी करता था। इस बात से लड़की पक्ष के लोग रंजिश रखते थे। आरोप है कि शिवम की हत्या लड़की के पिता और भाइयों ने की है। पुलिस ने आरोपितों के घर दबिश दी, लेकिन वह फरार मिले। मृतक के भाई की तहरीर पर पुलिस ने मोहल्ले के असगर, उसके पुत्र नसीम, नईम, एजाज और एक अन्य आरिफ पर हत्या का मुकदमा दर्ज कर लिया। एसपी डा. धर्मवीर सिंह ने बताया कि हर बिदु पर जांच की जा रही है। आरोपितों के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी।

Edited By: Jagran