मोदी सरकार - 2.0 के 100 दिन

बिजनौर, जेएनएन। सामाजिक न्याय और अधिकारित मंत्रालय, जिला प्रशासन और एलिम्को के संयुक्त तत्वावधान में हुए कार्यक्रम में सभी 11 ब्लाकों के 535 दिव्यांग व्यक्तियों को 444 ट्राईसाइकिल, 37 फोल्डिंग व्हील चेयर, आठ सीपी चेयर, 278 बैसाखी, 16 वाकिग स्टिक, दो ब्रैल किट, तीन स्मार्ट फोन, चार रोलेटर, चार कान की मशीन, नौ एमएसआइडी किट, सात डेजी प्लेयर, सात स्मार्ट केन, चार फोल्डिग छडी का वितरित की गई। कार्यक्रम का शुभारंभ मुख्य अतिथि एवं सदर विधायक सूची चौधरी और डीएम सुजीत कुमार द्वारा संयुक्त रूप से दीप प्रज्जवलित करके किया।

कार्यक्रम में सदर विधायक सूची चौधरी ने दिव्यांगों के चलाई जा रही विभिन्न योजना की जानकारी देते हुए कहा कि सर्वे कराया जा रहा है, ताकि कोई भी विकलांग इन योजनाओं के लाभ उपकरणों से वंचित ना रह जाए। उन्होंने कहा कि दिव्यांग की सबसे बडी सेवा, उन्हें समाज की मुख्य धारा से जोड़ना है।

डीएम सुजीत कुमार ने कहा कि भारत सरकार की एडिप योजना के तहत दिव्यांगजनों को नि:शुल्क सहायक उपकरण वितरित किए जा रहे। दिव्यांगों के लिए चलाई जा रही योजनाओं का लाभ हर हाल में मिलना चाहिए, इसके लिए अधिक से अधिक दिव्यांगों का रजिस्ट्रेशन कराया जाना जरूरी है। दिव्यांगजन समाज की दया के न,हीं बल्कि सहयोग के अभिलाषी हैं। उन्होंने जिला समाज कल्याण अधिकारी सहित सभी संबंधित अधिकारियों को निर्देशित किया कि वह शासन द्वारा दिव्यांगों के लिए संचालित योजनाओं को धरातल पर उतारे, ताकि कोई भी पात्र दिव्यांगजन इन योजनाओं का लाभ उठाने से वंचित ना रह सके। कार्यक्रम में परियोजना निदेशक विजय प्रकाश श्रीवास्तव, एसडीएम बृजेश कुमार सिंह, जिला समाज कल्याण अधिकारी, जिला दिव्यांगजन सशक्तिकरण अधिकारी समेत सभी जिलास्तरीय अधिकारी एवं दिव्यांग मौजूद थे।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप