जेएनएन, बिजनौर। रामलीला मंचन के दौरान मां काली की भव्य झांकी का प्रदर्शन किया गया। मां काली के जयकारों से रामलीला मैदान गूंज उठा।

रामलीला कमेटी की ओर से दुर्गा अष्टमी के मौके पर रामलीला मंचन के दौरान कलाकारों ने मां दुर्गा के रूपों की आकर्षक झांकी प्रस्तुत की। भगवान शंकर व मां काली की झांकी आकर्षण का केंद्र रही। दर्शकों ने प्रसाद चढ़ाकर मां काली से आशीर्वाद लिया। रामलीला कमेटी के अध्यक्ष रमेशचंद्र धीमान ने बताया कि शुक्रवार दशहरा के दिन श्री हरिहर मंदिर से अखाड़े का जुलूस निकाला जाएगा। शासन की कोविड-19 की गाइडलाइन का पालन करते हुए मंदिर मोतीचूर पर मेला आयोजित नहीं होगा। हालांकि मंदिर परिसर में रावण दहन का कार्यक्रम आयोजित किया जायगा। कार्यक्रम में कस्तूरीलाल कालरा, अशोक गुप्ता, अरुण पुष्पक, दिनेश नंदन रस्तोगी, ब्रिजेश रस्तौगी, राजू रस्तौगी आदि का सहयोग रहेगा। मां भगवती जागरण में उमड़े श्रद्धालु

मां भगवती के जागरण में गायकों ने भजनों के गुणगान से श्रद्धालुओं को मंत्रमुग्ध कर दिया। जागरण का शुभारंभ विधि विधान से हवन पूजन और मां का श्रृंगार करने व अखंड ज्योत जलाने के साथ हुआ।

नगर की क्षत्रिय नगर कालोनी में श्रद्धालु हरिसिंह चौहान ने मां भगवती के जागरण का आयोजन कराया। विधि-विधानपूर्वक हवन-पूजन कर भक्तों ने मां का श्रृंगार कराया। इस दौरान आकर्षक झांकियों का आयोजन भी किया गया। इस अवसर पर श्रद्धालु व भक्त हरि सिंह, संतोष देवी, ललित, अमित चौहान, आदित्य, सुषमा, अमित, सरिता चौहान, अनुराग, अखिलेश चौहान, मुन्नी देवी, शशि देवी, शिवम चौहान, शेर सिंह, बृजपाल, सुनीता देवी, गगन त्यागी, छवि त्यागी, दिव्यप्रताप सिंह सहित सैकड़ों की संख्या में श्रद्धालुओं ने धर्म लाभ उठाया। इसके अलावा नवरात्र के नवें दिन श्रद्धालुओं ने देवी सिद्धिदात्री की विधि विधान से पूजा-अर्चना कर परिवार की खुशहाली व सुख समृद्धि की कामना की। इस अवसर पर बड़ी संख्या में श्रद्धालुओं ने धामपुर मार्ग पर श्री रामलीला ग्राउंड स्थित देवी के प्राचीन मंदिर में पहुंचकर प्रसाद व नारियल आदि चढ़ाकर परिवार की सुख-समृद्धि व खुशहाली की कामना की।

Edited By: Jagran