ब‍िजनौर, जागरण संवाददाता: पिटबुल डाग ने छह वर्ष की छात्रा पर उस समय हमला कर दिया, जब वह ऑटो से उतरी। कुत्ते ने झपट्टा मार कर उसका कान चबा दिया और अन्य जगह काटकर बुरी तरह घायल कर दिया। हमलावर हुए कुत्ते को देख लोगों के होश उड़ गए। काफी प्रयास के बाद लोगों ने छात्रा को कुत्ते से बचाया। घायल बच्ची को पहले सीएचसी ले जाया गया, लेकिन स्वजन बाद में उसे मुरादाबाद के एक अस्पताल में इलाज के लिए ले गए।

नगर के मोहल्ला शहीदनगर निवासी रिंकू रानी पत्नी धर्म सिंह अस्करीपुर स्थित स्वास्थ्य केंद्र पर सीएचओ के पद पर तैनात हैं। उनकी छह वर्षीय पुत्र नव्या एक स्कूल में कक्षा एक की छात्रा है। मंगलवार को अपराह्न नव्या छुट्टी के बाद ऑटो रिक्शा से घर आ रही थी। घर से कुछ दूर पहले जैसे ही वह आटो से उतरी तभी पड़ोसी अमरजीत के पिटबुल कुत्ते ने उस पर हमला बोल दिया।

पिटबुल खुला हुआ था

बताया जाता है कि पिटबुल खुला हुआ था और अचानक नव्या को देख उस पर टूट पड़ा। कुत्ते ने नव्या का कान बचा डाला और हाथ व पैर पर कई जगह काटा। तभी ऑटो चालक अनवर ने वहां खड़े एक व्यक्ति के हाथ से डंडा लेकर कुत्ते को भगाने का प्रयास किया, लेकिन डंडा टूट गया। बाद में अन्य व्यक्तियों के साथ मिल कर नव्या को उसके कब्जे से छुड़ाया।

आनन फानन में घायल नव्या को स्वजन पीएचसी ले गए। प्राथमिक उपचार के बाद स्वजन उसे मुरादाबाद स्थित निजी अस्पताल ले गए। घटना से कुत्तों को लेकर भय का माहौल है। थाना प्रभारी नीरज शर्मा ने घटना के संबंध में शिकायत मिलने से इंकार किया है।

घर में खुला था कुत्ता, गेट भी नहीं था बंद

पिटबुल हमलावर किस्म का कुत्ता माना जाता है। कई जगह इसके पालने पर भी प्रतिबंध लग चुका है। खास बात यह है कि इसकी जानकारी होने पर भी कुत्ता मालिक ने इसे खुला छोड़ रखा था। यही नहीं लापरवाही भी इतनी कि मकान का मेन गेट भी खुला था।

Edited By: MOHAMMAD AQIB KHAN

जागरण फॉलो करें और रहे हर खबर से अपडेट