बिजनौर, जेएनएन। मंडावर क्षेत्र में बैलगाड़ी से खेत से चारा लेने जा रहे किसानों के सामने अचानक गुलदार आ गया। इससे उनमें भय व्याप्त हो गया।

मंडावर क्षेत्र के गांव कमालपुर में बुधवार सुबह किसान तपेंद्र सिंह, प्रेमसिंह, वेदपाल और कामेंद्र बैलगाड़ी से अपने खेत से चारा लेने जा रहे थे। अचानक गुलदार आ गया। गुलदार को देखकर चारों किसानों के होश उड़ गए। करीब दस मिनट बाद गुलदार उनकी आंखों के सामने गन्ने के खेत में घुस गया। किसानों ने गांव पहुंचकर अन्य ग्रामीणों को जंगल में गुलदार देखे जाने की जानकारी दी। ग्रामीणों ने गांव के जंगल में गुलदार वन विभाग को सूचना दी। सूचना पर पहुंची वन विभाग की टीम ने ग्राम कमालपुर में किसान तपेन्द्र सिंह के खेत में गुलदार पकड़ने को पिंजरा लगवा दिया। - - - - - बेसहारा पशुओं से दिलाएं निजात

नहटौर : राष्ट्रीय किसान मजदूर संगठन की बैठक ब्लाक कार्यालय परिसर में आयोजित की गई। इस दौरान ग्रामीण अंचल में घूम रहे बेसहारा पशुओं से निजात दिलाने तथा 20 अक्टूबर तक शुगर मिल चलाए जाने की मांग की गई। साथ ही संगठन की मजबूती पर भी जोर दिया गया।

बुधवार को आयोजित बैठक में संगठन के जिलाध्यक्ष विनोद कुमार ने कहा कि अब किसानों को संगठित होने की आवश्यकता है। संगठन मजबूत होगा तो समस्याएं आसानी से हल हो जाएंगी। कहा कि आगामी पेराई सत्र में गन्ने का रेट 450 रुपये प्रति कुंतल दिलाया जाए। बकाया गन्ने का भुगतान शीघ्र किए जाने की भी मांग की गई। उन्होंने कहा कि क्षेत्र में बेसहारा पशु फसलों को काफी नुकसान पहुंचा रहे हैं। इससे किसानों को काफी नुकसान हो रहा है। उन्होंने ब्लाक अधिकारियों से पशुओं को पकड़वाए जाने की मांग की। साथ ही बिजली के रेट काम किए जाने, जर्जर हालत में पड़े तारों को बदलवाने की भी मांग की। नंदराम सिंह की अध्यक्षता व विजेन्द्र सिंह के संचालन में हुई बैठक में ब्लाक अध्यक्ष संजीव कुमार, कैलाश लांबा, रणवीर सिंह, महावीर सिंह, खुर्शीद अहमद, समीर अहमद, अतुल कुमार, जोगिदर सिंह, वीरेंद्र सिंह, ओमपाल सिंह, आनंद कुमार आदि मौजूद रहे।

Edited By: Jagran