बिजनौर, जेएनएन। गांव खेड़ीजट में बुजुर्ग किसान की हत्या पोते ने की थी। पुलिस ने आरोपित को गिरफ्तार कर लिया है। दस बीघा जमीन के विवाद में हत्याकांड को अंजाम दिया गया।

नहटौर थाना क्षेत्र के गांव खेड़ीजट निवासी 75 वर्षीय रामपाल पुत्र बनवारी सिंह सैनी शुक्रवार रात को हथौड़ा मारकर हत्या कर दी गई थी। छानबीन के दौरान छत के जीने में खून के निशान हाथ के पंजे के निशान मिले थे। मृतक रामपाल के बड़े बेटे सत्यवीर सिंह ने अपने भतीजे विशाल कुमार व भाई की पत्नी संगीता पर हत्या का आरोप लगाते हुए रिपोर्ट दर्ज कराई थी।

पुलिस लाइन में आयोजित प्रेस वार्ता में रविवार को एसपी संजीव त्यागी ने बताया कि पुलिस ने दोनों को हिरासत में लेकर पूछताछ की। पूछताछ में हत्या का राजफाश हो गया। हत्या को पोते विशाल ने अंजाम दिया था। पुलिस ने अनुसार वृद्ध ने अपनी जमीन दोनों बेटों के हिस्से में बांट रखी थी। दस बीघा उसने अपने पा रख रखी थी। वह दस बीघा जमीन बड़े बेटे को देना चाहता था। इस पर आरोपित पोता नाराज था। आरोपित ने पुलिस को बताया कि शुक्रवार रात साढ़े नौ बजे वह अपने मकान से छत से होते हुए अपने बाबा की बैठक में पहुंच गया। उसने अपने बाबा को जगाकर जमीन नहीं लेने का दवाब बनाया। दादा ने जमीन देने से इंकार कर दिया। इस पर गुस्साए विशाल ने हथौड़ा उठाकर दादा को जमीन पर गिरा दिया। मुंह भींचने के बाद हथौड़ा मारकर हत्या कर दी। वह जीने के रास्ते अपने मकान पर जाकर बाथरूम में खून के हाथ धोये। कमरे में पहुंचकर कपड़े उतार कर वह सो गया। प्रभारी निरीक्षक सत्यप्रकाश सिंह ने बताया कि आरोपित को कोर्ट में पेश किया गया, जहां से उसे जेल भेज दिया गया। प्रेस वार्ता में एसपी देहात संजय कुमार, सीओ अर्चना सिंह मौजूद थे।

आपसी कहासुनी में की थी हत्या

बिजनौर : शिवालाकलां थाना क्षेत्र के गांव सुनगढ़ निवासी सोनू की 21 फरवरी को ई-रिक्शा लेकर घर लौट रहा था। रास्ते में गांव कह राजू और मान सिंह ने उस पर डंडे से हमला बोल दिया था। उपचार के दौरान उसकी मौत हो गई। एसपी संजीव त्यागी ने पुलिस लाइन में पत्रकारों को बताया कि आरोपित राजू और मान सिंह शराब पीने ठेके पर गए थे। इसी बीच उनकी सोनू से कहासुनी हो गई। इस पर दोनों ने पीट-पीटकर हत्या कर दी। दोनों आरोपितों को गिरफ्तार कर चालान कर दिया गया है।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस