लाठी-डंडों से पीटकर युवक की हत्या

बिजनौर,जेएनएन। नजदीकी गांव नौरंगाबाद में अल्पसंख्यक समुदाय के युवक की लाठी-डंडों से पीटकर हत्या कर दी गई। गुस्साए परिजनों ने शव को मुरादाबाद हाईवे पर रखकर जाम लगा दिया। सीओ पुलिस के साथ मौके पर पहुंचे। सुबह परिजनों ने मृतक को शराब का आदी बताते हुए तहरीर दी, लेकिन शाम को दी तहरीर में गांव के ही चार लोगों को नामजद किया। आरोप लगाया कि पुलिस ने मुकदमा दर्ज नहीं किया है। परिजनों ने पहले एक हिदू संगठन के नेता पर हत्या का आरोप लगाया, लेकिन तहरीर में उसका नाम नहीं है। गांव में पुलिस तैनात की गई है।

नौरंगाबाद निवासी मो. अकरम (35) पुत्र मो. हनीफ मजदूरी करता था। अकरम के सात बच्चे हैं। सोमवार दोपहर अकरम गांव के बाहर मुरादाबाद रोड स्थित एक दुकान पर गया था। बताया जाता है कि शराब के नशे में होने के कारण दूसरे संप्रदाय के कुछ युवकों से उसका झगड़ा हो गया। आरोप है कि युवकों ने लाठी-डंडों से उसकी पिटाई की। लोगों ने बीच-बचाव कराया और घायल अकरम को घर ले गए। देर शाम तबीयत बिगड़ने पर उसे निजी अस्पताल में भर्ती कराया, जहां से दूसरे अस्पताल रेफर कर दिया। सोमवार रात करीब एक बजे उपचार के दौरान उसकी मौत हो गई।

परिजनों ने चार लोगों पर हत्या का आरोप लगाते हुए तहरीर दी। मंगलवार शाम पोस्टमार्टम के बाद शव गांव पहुंचा। गुस्साए परिजनों ने शव को मुरादाबाद रोड पर रखकर जाम लगा दिया। सीओ महावीर सिंह राजावत पुलिस के साथ मौके पर पहुंचे और लोगों को समझाया। परिजनों व लोगों का आरोप है कि पुलिस आरोपितों के खिलाफ मुकदमा दर्ज नहीं करके उन्हें बचाने की कोशिश में है। एक आरोपित किसी संगठन का पदाधिकारी भी है।

सीओ के कार्रवाई के आश्वासन पर जाम खोला। सीओ ने बताया कि पोस्टमार्टम रिपोर्ट में मौत का कारण स्पष्ट हो सकेगा। तीन भाइयों व उनकी मां के खिलाफ तहरीर दी गई है। तहरीर में हिदू संगठन से जुड़े नेता का नाम नहीं है।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप