बिजनौर, जागरण टीम। सर्दी हर दिनोदिन बेकाबू होती जा रही है। शनिवार को फिर से मौसम ने रंग बदल लिया। शीतलहर के साथ घना कोहरा छाया रहा है। शीतलहर एवं कोहरा इतना ज्यादा था कि सुबह के समय कोहरे की बरसात होती रही। इससे जिससे जनपद के तापमान में गिरावट होने ठंड में और अधिक इजाफा हो गया। पूरे दिन मौसम पूरी तरह सर्द रहा। दिन में कोहरे की धुंध आसमान में बदस्तूर जारी रही। ठंड से बचाव को लोग इधर-उधर अलाव तापते दिखाई दिए। नगीना अनुसंधान की वेधशाला के अनुसार जनपद का अधिकतम तापमान 11.6 डिग्री एवं न्यूनतम तापमान 07.8 डिग्री सेल्सियस मापा गया।

संवाद सहयोगी, चांदपुर : शनिवार को भी सुबह से कोहरा छाया रहा। कोहरे की धुंध और उसकी बरसात होने से पूरे दिन सूर्यदेव के दर्शन नहीं हो सके। शनिवार को लोग मजबूरीवश ही घरों से निकले। उधर, सर्दी के चलते लोग अलाव का सहारा लेते नजर आए। पारा फिर लुढ़कने से बढ़ी सर्दी

कोतवाली देहात : तापमान लुढ़क जाने के कारण सर्दी का सितम बरकरार बना हुआ है। पिछले तीन दिनों से शीतलहर का दौर बना हुआ है और लगातार तापमान गिर रहा है। पूरे दिन कोहरा छाने से हाईवे पर भी वाहनों की रफ्तार धीमी पड़ी रही। कृषि अनुसंधान केंद्र नगीना के मौसम वैज्ञानिक ने आगे भी शीतलहर के चलने की आशंका जाहिर की है।

संसू, रतनगढ़ : कोहरे की घनी चादर और ठंड के बीच जनजीवन पटरी से उतरता दिखाई दे रहा है। शनिवार सुबह से ही क्षेत्र में घना कोहरा छाया रहा। कड़ाके की ठंड के बीच आम लोग अलाव पर हाथ तापते नजर आए। इसके अलावा सड़कों पर यातायात संचालन आम दिनों के मुकाबले ठहरा-ठहरा नजर आया। शनिवार की सुबह से हल्की बूंदाबांदी के चलते मौसम सर्द रहा। आकाश में बादल छाए रहने से पूरे दिन मौसम सर्द रहा तथा बाजारों में सन्नाटा पसरा रहा तथा व्यापारी हाथ पर हाथ धरे नजर आए।

Edited By: Jagran