बिजनौर, जेएनएन। बढ़ापुर में नगर पंचायत बोर्ड की बैठक में मामूली कहासुनी पर एक महिला सभासद के देवर ने दूसरी महिला सभासद के पिता की गला दबाकर हत्या कर दी। घटना के वक्त नगर पंचायत अध्यक्ष समेत 11 सभासद मौजूद थे। पुलिस ने आरोपित को हिरासत में ले लिया। इस सनसनीखेज घटना से वहां पर काफी देर तक अफरातफरी का माहौल रहा।

कहासुनी से हुई शुरुआत

शुक्रवार को बढ़ापुर नगर पंचायत बोर्ड की बैठक में विकास कार्यो पर चर्चा के बाद सभासद व उनके परिजन नगर पंचायत अध्यक्ष आबिद अंसारी के कक्ष में जलपान कर रहे थे। अधिशासी अधिकारी सेवाराम राजभर अपने कमरे में थे। इसी दौरान महिला सभासद शाहीन जहां के देवर नौशाद उर्फ बाबा और दूसरी महिला सभासद अफरोज जहां के पिता इरफान अंसारी उर्फ सुक्के प्रधान (55) के बीच किसी बात को लेकर कहासुनी हो गई।

अचानक गर्दन बगल में दबा ली

आरोप है कि इसी बीच नौशाद ने इरफान की गर्दन अपनी बगल में कसकर दबा ली। सभासदों व अध्यक्ष ने किसी तरह छुड़ाया, लेकिन तब तक उनका जिस्म बेजान हो चुका था। इरफान को नगीना सीएचसी ले गए, जहां मृत घोषित कर दिया। सीओ नगीना अर्चना सिंह व बढ़ापुर थाना प्रभारी कृपा शंकर सिंह नगर पंचायत कार्यालय पहुंचे और आरोपित नौशाद को हिरासत में लिया। पहले सभासदों से और फिर चेयरमैन आबिद अंसारी व ईओ सेवाराम राजभर से बंद कमरे में पूछताछ की। शव पोस्टमार्टम को भेजा और कार्यालय के सीसीटीवी कैमरों की फुटेज कब्जे में ली। बताया जाता है कि दोनों पक्षों में पहले भी विवाद हो चुका था। समाचार लिखे जाने तक तहरीर नहीं मिली थी।

इनका कहना है

मैंने औपचारिक बैठक बुलाई थी, जिसमें 11 सभासद मौजूद थे। सभासद के पिता इरफान अंसारी कार्यालय में बैठे थे। दूसरी सभासद के देवर नौशाद दफ्तर में आकर उनसे उलझ गए। पहले सोचा कि दोनों मजाक कर रहे हैं। इसी बीच नौशाद ने उनकी गर्दन अपनी बगल में कसकर दबा ली।

- आबिद अंसारी, नगर पंचायत अध्यक्ष बढ़ापुर

झगड़े के दौरान इरफान की मौत हुई है। परिजन हत्या का आरोप लगा रहे हैं। सीसीटीवी फुटेज व बयान के आधार पर जांच की जा रही है। पोस्टमार्टम रिपोर्ट में मौत का कारण स्पष्ट हो पाएगा।

- संजीव त्यागी, एसपी 

Posted By: Prem Bhatt

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप