जेएनएन, बिजनौर। जनपद में लाकडाउन लागू रहा। गुरुवार को कुछ दुकानें सुबह 11 बजे तक खोलने की अनुमति दी गई। इसके चलते बाजारों और सड़कों पर चहल-पहल रही। कृषि संबंधित सामानों की दुकानें भी खुलीं। इसके चलते लाकडाउन का असर कम रहा। हालांकि जिलेभर में पुलिस ने चेकिग अभियान चलाया।

गुरुवार को भी लाकडाउन रहा। सरकार की ओर से लाकडाउन दस मई तक लागू किया गया है। शुरुआत में मेडिकल और दूध संबधित दुकानें की खोलने की अनुमति दी गई। लाकडाउन बढ़ने के बाद कुछ और दुकानों को 11 बजे तक खुलने लगी है। किराना और बीज भंडार की दुकानें भी गुरुवार को खुली। इसके चलते लोग खरीदारी और कृषि संबंधित सामान और बीज लेने के लिए घर से निकले। इसके चलते भीड़-भाड़ अधिक रही। सड़कों पर चहल-पहल रही। दुकानों पर भीड़ नजर आई। इस दौरान पुलिस शारीरिक दूरी बनाने और मास्क का इस्तेमाल करने की अपील की। नगीना में 11 बजे तक खुलेगी दुकानें

एसडीएम घनश्याम वर्मा ने व्यापारियों के साथ हुई बैठक के बाद बताया कि लाकडाउन के दौरान नगीना में फल, सब्जी व किराना की दुकान दिन में 11 बजे तक ही खुल पाएगी। नगर की पुलिस चौकी चित्तौड़गढ़ में व्यापार मंडल के पदाधिकारियों के साथ आयोजित बैठक के बाद एसडीएम घनश्याम वर्मा और सीओ सुमित शुक्ला ने बताया कि दिन में 11 बजे तक फल सब्जी, किराना की दुकान और ठेले लग सकेंगे। मेडिकल की दुकानें पूर्व की तरह खुलती रहेंगी। उन्होंने चेतावनी देते हुए कहा कि 11 बजे के बाद सड़क पर किसी तरह का कोई आवागमन प्रतिबंधित रहेगा। इस मौके पर थाना प्रभारी कृष्ण मुरारी दोहरे, स्वास्थ्य निरीक्षक धीरज राय वर्मा, कय्यूम राईन, दीपक अग्रवाल, संजय गुप्ता, अमित जैन, सरफराज अंसारी आदि मौजूद रहे।