जागरण संवाददाता, गोपीगंज (भदोही) : राष्ट्रीय राजमार्ग स्थित बस अड्डे पर गुरुवार को देर शाम एक ही बाइक पर सवार होकर आए तीन युवकों ने दुस्साहसिक तरीके से तीन बम फेंका। जब तक लोग समझ पाते तब तक युवक फरार हो गए। इस दौरान काशी नरेश राजकीय स्नातकोत्तर महाविद्यालय के पूर्व छात्रसंघ उपाध्यक्ष मनीष यादव सहित तीन अन्य घायल हो गए। सरेबाजार हुई बमबाजी से अफरा-तफरी मच गई। लोग इधर-उधर भागने लगे। लोगों ने घायल को अस्पताल पहुंचाया। आक्रोशित परिजनों ने बनारस-प्रयागराज हाईवे पर जाम लगा दिया। पुलिस ने किसी तरह मामले को शांत कराया।

गोपीगंज बाजार में बघेल छावनी और जोगीनका गांव के छात्रों के दो गुटों में बुधवार को किसी बात को लेकर चाकूबाजी हुई थी। दोनों पक्षों के बीच कोतवाली में पुलिस के सामने समझौता भी हो गया था। समझौता होने के कारण कोई कार्रवाई नहीं हुई। इसी घटना को लेकर जोगीनका के युवक देर शाम एक ही बाइक पर सवार होकर बस अड्डा पहुंच गए। बाइक सवार युवकों ने छात्र नेता मनीष यादव को निशाना बनाकर बारी-बारी से तीन बम फेंका। चारों ओर धुंआ-धुंआ हो गया। इसी का लाभ लेकर बाइक सवार हमलावर फरार हो गए। पुलिस के पूछताछ में घायल छात्र नेता ने जोगिनका गांव के मंजित सिंह और प्रशांत सिंह सहित अन्य पर बम से हमला करने का आरोप लगाया है। बताया कि वह दुकान पर बैठा था कि बुलट पर सवार आरोपितों ने हमला कर दिया। पुलिस मामले की जांच में जुटी हुई है।

Edited By: Jagran