जागरण संवाददाता, लालानगर (भदोही) : रामकृष्ण परमहंस के परम प्रिय शिष्य स्वामी विवेकानंद की 157वीं जयंती शनिवार को युवा दिवस के रूप में धूमधाम से मनाई गई। विभिन्न शिक्षण संस्थानों में आयोजित कार्यक्रमों में उनके जीवन आदर्शों पर प्रकाश डाला गया तो उनके बताए मार्ग पर चलने का संदेश दिया गया। कहा गया कि स्वामी जी युवाओं के लिए प्रेरणास्त्रोत थे।

संत विवेकानंद उच्चतर माध्यमिक विद्यालय गोपीगंज में जयंती समारोह धूमधाम एवं उल्लास के साथ मनाया गया। स्वामी जी के चित्र पर माल्यार्पण व नमन के पश्चात विद्यार्थियों ने उनके जीवन से संबंधित गीत एवं भाषण प्रस्तुत किए। साथ ही यज्ञ भी संपन्न कराया। प्रधानाचार्य अजय त्रिपाठी ने कहा कि भारत के राष्ट्रीय आदर्श हैं त्याग एवं सेवा। इसको आत्मसात कर इन धाराओं में तीव्रता उत्पन्न कीजिए शेष सब अपने आप ठीक हो जाएगा। कहा कि जब काम में लग जाओगे फिर देखोगे इतनी शक्ति आएगी कि उसे संभाल नही सकोगे। स्वामी जी का संदेश देते हुए कहा था कि हमेशा बढ़ते चलो, मरते दम तक गरीबों और दलितों के लिए सहानुभूति रहे यही हमारा आदर्श वाक्य है। गायत्री परिवार संगीत विभाग के नरेंद्र मिश्र ने भजन के जरिए संस्कार व शिक्षा का संदेश दिया। उनके भजन को सुन लोग भाव विभोर हो उठे। संकट मोचन आदर्श बालिका इंटर कालेज दानीपट्टी के संस्थापक शैलेंद्र पांडेय ने कहा कि स्वामी जी का संदेश था कि सब ईश्वर की संतान हो, अमर आनंद के भागी हो, पवित्र आत्मा हो। उठो साहसी बनो, वीर्यमान सब उत्तरदायित्व अपने कंधों पर लो। याद रखो कि तुम स्वयं अपने भाग्य के निर्माता हो। गायत्री परिवार के प्रांत प्रचारक राधेश्याम उपाध्याय संत जी ने अपनी विद्यार्थियों को आशीर्वाद दिया। विद्यार्थियों को संदेश दिया कि उन्हें अपने भारत भूमि एवं भारतीयता के लिए सर्वोत्तम न्योछावर करने के लिए सर्वदा तैयार रहना है। रमाकांत गुप्ता, ज्ञानेश्वर अग्रवाल, सुधीर कुमार ¨सह, सर्वेश शुक्ला, कृष्णानंद दुबे, बीडी पांडेय आदि ने स्वामी जी के आदर्शों पर प्रकाश डाला व उनके जीवन से प्रेरणा लेने पर जोर दिया।

इसी तरह एकल अभियान के तहत अंचल समिति के तत्वावधान में जयंती मनाई गई। अंचल अध्यक्ष विजय साहू ने कहा कि एकल अभियान का मूल मंत्र ही स्वामी विवेकानन्द के सिद्धांतो पर आधारित है। रोहितास अग्रहरि, मोहित, ओमप्रकाश, धर्मेन्द्र चौहान, राहुल ¨बद आदि में स्वामी जी के चित्र पर माल्यार्पण कर श्रद्धासुमन अर्पित किया।

ऊंज प्रतिनिधि के अनुसार हीरानंद सेवा निकेतन समिति बेरवां पहाड़पुर के तत्वावधान में हीरानंद पांडेय बालिका इंटर कालेज आयोजित कार्यक्रम में स्वामी विवेकानंद की जयंती मनाई गई। मुख्य अतिथि पूर्व सांसद गोरखनाथ पांडेय ने स्वामी जी के चित्र पर माल्यार्पण कर विद्यार्थियों को उनके जीवन आदर्शों से परिचित कराया। कहा कि वह युवाओं के प्रेरणाश्रोत थे। उनके बताए रास्ते पर चलने का संकल्प दिलाया। प्रधानाचार्य रविकांत तिवारी ने अच्छे अंक सफलता प्राप्त करने वाले छात्र-छात्राओं को पुरस्कार देकर सम्मानित किया। लोलारखनाथ पांडेय, मानिक चंद पांडेय, संतोष कुमार, राम¨ककर, मो. अकरम पूजा पांडेय आदि ने स्वामी जी के आदर्श व सिद्धांतों पर विस्तार से प्रकाश डाला।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप