जासं, भदोही : विधायक रवींद्रनाथ त्रिपाठी ने गुरुवार को राजकीय अस्पताल का निरीक्षण किया। सीएमएस स्वयं नदारद थे। अस्पताल में व्याप्त दु‌र्व्यवस्था देख नाराजगी जताते हुए प्रभारी सीएमएस को व्यवस्था में सुधार लाने का अल्टीमेटम दिया। रोगियों ने शिकायतों की झड़ी लगा दी। चिकित्सकों की लेटलतीफी, बाहर से दवा लिखने, एक्स-रे, पैथोलाजी सहित अस्पताल की साफ सफाई को लेकर रोगियों ने शिकायत दर्ज कराई। विधायक ने सीएमओ से फोन पर बात की। कहा कि अस्पताल की व्यवस्था संतोषजनक नहीं है। समय से ओपीडी, साफ सफाई, रोगियों के साथ अच्छा व्यवहार व दवा वितरण आदि में सुधार कराने को कहा। इससे पहले विधायक ने ओपीडी रजिस्टर, हाजिरी रजिस्टर, दवा स्टाक रजिस्टर आदि का अवलोकन किया। औषधि भंडारण केंद्र में रजिस्टर से दवाओं का मिलान किया तो दवा वितरण केंद्र की स्थिति का जायजा लिया। एक्स-रे व पैथालोजी कक्ष, वार्ड, ड्रेसिग रूम सहित अस्पताल की पेयजल सुविधा पर भी ध्यान दिया। सीएमएस की गैर मौजूदगी को गंभीरता से लिया। कहा कि जब टीम का कप्तान ही लापता है तो व्यवस्था कैसे सुधरेगी। प्रभारी सीएमएस डा.वीके मौर्या ने बताया कि सीएमएस डा.जयनरेश विभागीय मीटिग में भाग लेने गए हैं। राजकीय अस्पताल की व्यवस्था से विधायक संतुष्ट नहीं थे। उन्होंने कहा कि चिकित्सकों की लापरवाही के कारण शासन की मंशा धूल धूसरित हो रही है। इस मौके पर पालिकाध्यक्ष अशोक जायसवाल, विनीत बरनवाल, गिरधारीलाल जायसवाल आदि थे।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस