शिक्षा से वंचित बच्चों को शिक्षित करने की जरूरत

जागरण संवाददाता, भदोही : मानव संसाधन व महिला विकास संस्थान की ओर से बाल सुरक्षा, बालश्रम व समेकित बाल संरक्षण योजना अंतर्गत ब्लाक सभागार में आंगनबाड़ी कर्मचारियों को प्रशिक्षण दिया गया। बाल विकास परियोजना अधिकारी नीलम श्रीवास्तव ने महिला बाल कल्याण विभाग द्वारा संचालित योजनाओं की जानकारी दी। बालश्रम की रोकथाम के लिए बच्चों की निगरानी करने और शिक्षा से वंचित बच्चों को शिक्षित करने पर बल दिया।

जिला समन्वयक राजमणि ने स्पांसरशिप योजना पर विस्तार से प्रकाश डाला। कहा वो बच्चे जो आर्थिक रूप से कमजोर हैं उनके लिए सरकार द्वारा योजना चलाई जा रही है जिसमें बच्चों को प्रत्येक माह 2000 रुपये का सहयोग किया जाता है। संस्थान के उमाशंकर ने समेकित बाल संरक्षण योजना के बारे में चर्चा करते हुए बाल संरक्षण समिति के बारे में जानकारी दी। ग्राम बाल संरक्षण समिति के कार्य, दायित्व पर प्रकाश डाला।

कहा कि समिति की बैठक नियमित होती रहे इसके लिए गांव और जिले में एक तिथि सुनिश्चित करने की जरूरत है। सहायक पंचायत अधिकारी नंदकुमार यादव द्वारा ग्राम स्तर पर बच्चों के सुरक्षा व बाल श्रम पर अंकुश लगाने की जरूरत पर बल दिया। इसी तरह संस्थान की शीबा मेहनाज ने अभिभावकों की जागरूकता पर बल देते हुए बताया कि बच्चों की शिक्षा व सुरक्षा के लिए जागरूकता कार्यक्रम किया जाना चाहिए। संचालन कर्मबली ने किया। आंगनबाड़ी विजय लक्ष्मी ने भी विचार प्रकट किया।

Edited By: Jagran

जागरण फॉलो करें और रहे हर खबर से अपडेट