जागरण संवाददाता, भदोही : समय दोपहर 12.30 बजे। स्थान : लिप्पन तिराहा, अजीमुल्लाह की ओर जाने वाले मेन रोड पर तकिया कल्लन शाह तक वाहनों की लगी कतार। स्टेशन रोड तक पैर रखने की जगह नहीं। रजपुरा मार्ग पर नवनिर्मित ओवरब्रिज पर वाहनों का जमावड़ा। ट्रैफिक कंट्रोल के लिए तैनात चार जवान पसीने से तर-बतर हो चुके थे लेकिन जाम से मुक्ति नहीं मिल सकी। प्रभारी निरीक्षक गगनराज सिंह का वाहन भी जाम में जाकर फंस गया। हमराहियों के साथ निरीक्षक भी जाम छुड़ाने में घंटों परेशान रहे। लिप्पन तिराहे पर यह दृश्य हर रोज देखने को मिल रहा है। सुबह से लेकर शाम तक तक यही स्थिति रहती है। वाहनों के दबाव के चलते ड्यूटीरत जवान भी बेबस हो कर रह गए हैं। एक तरफ आसमान से आग बरस रही है तो दूसरी ओर जाम में फंसे लोग बिलबिला कर रह जाते हैं। लोगों का कहना है कि जाम से मुक्ति दिलाने के लिए प्रशासन को पहल करने की जरूरत है।

कच्छप गति से चल रहे सर्विस लेन के निर्माण में तेजी लाने की जरूरत है जबकि समस्या के स्थाई रूप से समाधान के लिए लिप्पन तिराहे को अतिक्रमण मुक्त कराना अत्यंत आवश्यक है। वरना जाम से मुक्ति मिलने की कोई संभावना नहीं है। गजिया ओवरब्रिज के चालू होने के बाद उत्पन्न हुई जाम की गंभीर समस्या से लोग परेशान हैं। वाहनों का दबाव बढ़ते ही लिप्पन तिराहा जाम का केंद्र बिदु बन गया है जबकि पहले यह समस्या पकरी तिराहे पर देखने को मिलती थी। मंगलवार को दिन भर लिप्पन तिराहे पर वाहनों का जमावड़ लगा रहा। चिलचिलाती धूप में लोग घंटों झुलसते रहे। जबकि पुलिस अधीक्षक के निर्देश पर तैनात ट्रैफिक पुलिस के जवान दिन भर पसीना बहा रहे हैं लेकिन समस्या का समाधान नहीं हो रहा है।

---------------------

ब्रिज निर्माण के बाद बढ़ गया दबाव

ओवरब्रिज से आवागमन शुरू होने के बाद मीरजापुर, औराई, ज्ञानपुर, गोपीगंज, वाराणसी जाने वाले वाहन नवनिर्मित ओवरब्रिज से आवागमन करने लगे हैं। इससे एक तरफ जहां वाहनों का भारी दबाव बन गया है वहीं चौरी रोड की ओर आवागमन करने वालों की समस्या का समाधान नहीं हो सका। ज्ञानदेवी बालिका विद्यालय वाला मार्ग भी वाहनों के चलते हर समय जाम रहता है।

Edited By: Jagran