जागरण संवाददाता, मोढ़ (भदोही) : एक ओर प्रत्येक व्यक्ति तक बेहतर स्वास्थ्य सुविधा पहुंचे, इसे लेकर तमाम प्रयास हो रहे हैं। वहीं गड़ेरियापुर स्थित स्वास्थ्य उपकेंद्र (जच्चा-बच्चा केंद्र) का लोगों को कोई लाभ नहीं मिल रहा है। केंद्र केवल टीकाकरण तक सीमित होकर रह गया है। साथ ही चहारदीवारी जहां ध्वस्त हो चुकी है वहीं भवन भी देखभाल के अभाव में जर्जर होने की ओर बढ़ रहा है।

भाजपा सरकार स्वास्थ्य के प्रति इतनी गंभीरता दिखा रही है, महिलाओं के लिए जननी सुरक्षा योजना सहित अनेक प्रकार की योजना लाई है। इसके बाद भी गड़ेरियापुर केंद्र पर प्रसव पीड़ा के दौरान मरीज को ले जाने पर कोई नहीं मिलता। ऐसे में उन्हें लेकर सुरियावां, ज्ञानपुर व भदोही आदि स्थानों पर स्थित अस्पतालों का शरण लेना होता है। केवल टीकाकरण के लिए निश्चित तिथि पर पहुंचकर टीकाकरण कर दिया जाता है।