बस्ती [जितेन्द्र त्रिपाठी]। बस्ती मंडल की तीन लोकसभा सीटों बस्ती, डुमरियागंज व संतकबीरनगर के भाजपा प्रत्याशियों के समर्थन में रैली करने आए मोदी ने विपक्ष पर जमकर तीर चलाए। विपक्ष पर कड़ा हमला करते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि इस बार उसके लिए दिल्ली बहुत दूर है।

बस्ती में कल विजय संकल्प रैली में उन्होंने महागठबंधन खासकर बसपा को निशाने पर लेते हुए करारा हमला किया। गरीबी और सुविधाओं के अभाव से जूझ रहे पूर्वांचल के इंसेफ्लाइटिस जैसे भावनात्मक मुद्दों को उठाकर उन्होंने अपनी सरकार में किए गए कार्यों को भी बखूबी गिनाया। उन्होंने कहा कि महामिलावटी गठबंधन और एनडीए की कार्यशैली का फर्क यह है कि हम सरकार को दिल्ली से बाहर लाना चाहते है वहीं महामिलावटी लोग पद की लालसा में दिल्ली पहुंचना चाहते हैं। मैं ऐसे लोगों के लिए कहना चाहता हूं कि इस बार उनके लिए दिल्ली दूर है। भ्रष्टाचारी, वंशवादी और सेना का अपमान करने वालों के लिए इस बार दिल्ली दूर ही रहेगी।

बस्ती मंडल की तीन लोकसभा सीटों बस्ती, डुमरियागंज व संतकबीरनगर के भाजपा प्रत्याशियों के समर्थन में रैली करने आए मोदी ने विपक्ष पर जमकर तीर चलाए। चूंकि इन तीनों सीटों पर भाजपा प्रत्याशियों की मुख्य चुनौती गठबंधन से बसपा के प्रत्याशियों से मिल रही है इसलिए उन्होंने बसपा व उसकी मुखिया मायावती को ही निशाने पर रखा। पीएम ने राष्ट्रीय मुद्दों के साथ-साथ क्षेत्रीय मुद्दों को भी प्रमुखता से उठाया और उप्र के लोगों से 2014 और 2017 की तरह 2019 में भी सहयोग की हैट्रिक मार भाजपा को एक बार फिर मौका देने का आह्वन किया। उन्होंने कहा कि केंद्र में जब कांग्रेस की भ्रष्टाचारी सरकार थी और राज्य में सपा-बसपा की जातिवादी सरकारें थीं तब पूर्वांचल की घोर उपेक्षा हुई। ये दल सत्ता के लिए सिद्धांतों को पांव तले रौंदते रहे।

प्रधानमंत्री ने कहा कि बहनजी ने अपने ट्वीट में लिखा है कि उनके शासन में ङ्क्षहसा की घटनाएं बहुत कम हुईं। मैं पूछना चाहता हूं कि 2007 में गोरखपुर के गोलघर में बम धमाके, इसके छह माह बाद वाराणसी और फैजाबाद कचहरियों में बम धमाके, 2008 में रामपुर में सीआरपीएफ सेंटर पर आतंकी हमला और 2010 में दशाश्वमेध घाट पर बम फटने की घटनाएं किसके शासन में हुईं। बहन जी सत्ता के लिए निर्दोषों के खून के दाग भूल सकती हैं लेकिन मोदी नहीं। आतंकी चाहे जमीन में कहीं छिपा हो या पाताल में मोदी उसे ढूंढ़ कर सजा देगा। उन्होंने कहा कि सपा-बसपा गली के गुंडों से निपटने की नीति तो बना नहीं सकते नक्सलियों और आतंकवादियों से निपटने की बात ही छोडि़ए। आज देश में एक ही व्यक्ति है जो नक्सलियों और आतंकवादियों को सजा दे सकता है। विपक्ष पर तंज कसते हुए कहा कि आज जो आठ सीट पर लड़ रहे हैं वे पीएम बनने का ख्वाब देख रहे हैं। जो बीस सीट पर लड़ रहे हैं सत्ता के लिए उनके मुंह में पानी आ रहा है। जो चालीस सीट पर ही खड़े हैं उन्होंने तो शपथ लेने के लिए कपड़े सिलने को दे दिये हैैं। लेकिन इन लोगों का ख्वाब पूरा होने वाला नहीं है। सपा-बसपा पर तंज कसते हुए कहा कि अभी तक पहले आप-पहले आप करने वाले 23 मई को परिणाम के बाद आप कौन-आप कौन करेंगे। 

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मंच से सपा व बसपा गठबंधन को अल्टीमेटम दिया। उन्होंने कहा कि महामिलावटी लोग गरीबों को खरीदने के प्रयास में न रहें। सपा बसपा इंसान को वोट का पताका समझते हैं। यह लोग (सपा बसपा) इंसानों को वोट के रूप में बेच रहे हैं। ऐसे नेता हमें मंजूर नहीं। जनता ने तय किया है कि नेता अपनी खातिर खरीद बेच की बिक्री चला रहे हैं। यह लोग (सपा बसपा) डंके की चोट पर वोट ट्रांसफार करने का दावा कर रहे हैं। इंसान और रुपयों में बहुत बड़ा फर्क होता है। जनता गरीब हो सकती है बिकाऊ नहीं। उन्होंने कहा कि सपा व बसपा के लोग जैसे पैसे एक खाते से दूसरे खाते में ट्रांसफर करते हैं, यह लोग भी इंसान को उसी तरह तौलते हैं। 

पीएम मोदी ने कहा कि हमारी तो कार्य संस्कृति ही लक्ष्य तय करने और उसे पूरा करने की है। महामिलावटी गठबंधन और एनडीए की कार्य संस्कृति एक दूसरे से काफी अलग है। हम सरकार को दिल्ली से बाहर ले जाना चाहते हैं, वहीं जो महामिलावटी हैं, जो पद के लालच में दिल्ली आने को आतुर हैं। पीएम मोदी ने कहा कि आप लोग (सपा बसपा) बिकाऊ, ठेकेदार हो। यूपी के लोग नेकी और नियत के आधार पर वोट देते हैं।

उन्होंने कहा कि उत्तर प्रदेश में अभी जो पहले आप, पहले आप जैसी बात करते थे वो चार चरण के बाद एक दूसरे का गला काटने का खेल खेल रहे हैं। 23 को जब चुनाव के नतीजे आएंगे तक कहेंगे आप कौन। उन्होंने कहा कि हम जाति पात दूर भगाएंगे। भूख, गरीबी को भगाएंगे। 2017 में जनता ने भेदभाव करने वाले लोगों को जनता ने नकार दिया। 2019 के चुनाव में यूपी हैट्रिक लगाने वाला है। विकास को ध्यान में रखते हुए आपने जो पूर्ण बहुमत की सरकार बनाई थी उसने पूरी इमानदारी से काम किया। आज भारत के कहने पर भारत के गुनहगारों को कठघरे में खड़ा किया जा रहा है।

उन्होंने कहा कि इस बार चुनाव में पीएम के पद को इतने चेहरे हवा में चल रहे हैं, जिनकी गिनती कठिन है। जो चार सीट पर चुनाव लड़ रहे हैं जो चालीस सीट पर चुनाव लड़ रहे वह भी प्रधानमंत्री बनना चहता है। आप बताएं कौन सा चेहरा है जो आतंकवाद को खत्म कर सकता है। यह आपको तय करना है कि आपको कैसा सेवक चाहिए। साफ-सफाई से लेकर इलाज का काम शुरू किया। हमने पहली बार तीन साल के अंदर बच्चों व माताओं पर निरंतर नजर रखी जा रही है। एएनएम आशा को उपकरण दिए गए हैं बीमारों की बीमारी पर नजर रखने के लिए। गरीब किसी भी वर्ग व समुदाय का हो उसके लिए पांच लाख रुपये तक की चिकित्सा व्यवस्था चौकीदार ने की है। आयुष्यमान होने का तोहफा दिया है।

पीएम मोदी ने कहा कि हम देश की सीमा के साथ ही आंतरिक सुरक्षा को लेकर भी काफी सगज हैं। अब तो आतंकी कहीं भी हो खोज कर मारा जाएगा। इसके साथ ही अब बस्ती में मेडिकल कालेज, गोरखपुर में एम्स, काशी में कैंसर अस्पताल मिलने से गरीब को बेहतर इलाज की सुविधा मिली है। बच्चों को पढ़ाई, नौजवानों को कमाई,बीमारों को दवाई मेरा लक्ष्य है। मुंडेरवा में चीनी मिल योगी के प्रयास से शुरु हो गई है। किसान सम्मान निधि का लाभ दिया गया है। नतीजा 23 मई को आने वाला है। फिर एक बार मोदी सरकार के नारे के नारे लगवाए। खेत मजदूर, छोटे किसान, दुकानदार को हर माह पेंशन योजना का लाभ मिलेगा।

उन्होंने कहा कि हमारी सरकार ऐसे लक्ष्य ले कर चल रही है जिसके बारे में पूर्व की सरकारें सोच ही नहीं सकती थीं। किसानों की आय दोगुनी करने का प्रयास हमारी सरकार का है। महान मिलावटी गठबंधन व एनडीए एक दूसरे से अलग हैं। अगर थोड़ा सा ध्यान दें तो आप समझ सकते हैं। इनमें महान मिलावट है। भ्रष्टाचारियों, वंशवादियों, जातिवादियों के लिए प्रधानमंत्री बनने के सपने सपने ही रह गए। सपा,बसपा, कांग्रेस इन तीनों के जनता वोट बैंक है। यह धन की तरह से जनता को एक दूसरे के खाते में ट्रांसफर करते हैं। मेरे उत्तर प्रदेश का हर नागरिक उद्यमी हो सकता है बिकाऊ नहीं हो सकता है। मेरे उत्तर प्रदेश के वोटर मन बना चुके हैं। पीएम मोदी ने कहा कि जनता ने विकास की नीति को अपना लिया है। आपने जो सरकार बनाई उसने पूरी इमानदारी से काम किया। भारत के कहने पर दुनियाभर में सुना जा रहा है। आपने देखा होगा आतंकवाद के विरुद्ध लड़ाई में भारत को अपार सफलाता मिली। मसूद अजहर को अंतरराष्ट्रीय आतंकी घोषित कर दिया गया है। अब पाकिस्तान या जो सोमालिया बनने के लिए तैयार रहना होगा या अजहर पर कार्रवाई करना होगा। पाकिस्तान मजबूर हुआ है तो भारत मजबूत हुआ है। शहीदों के परिवानों को सुकून मिला है। 

भाजपा के दमदार प्रदर्शन से सपा, बसपा की नींद हराम हो गई है। कंफ्यूज हो गई हैं। बहन जी परेशान हो गईं हैं। यह लोग कभी सही नहीं बोलते हैं। 23 मई को 2007 को गोरखपुर मे गोलघर में सीरियल धमाके हुए थे जब किसकी सरकार थी, लखनऊ, अयोध्या सहित कई शहरों में धमाके हुए तब भी मायावाती की सरकार थी। अयोध्या में बम फटा था तब किसकी सरकार थी। भीड़ ने कहा मयायावती। प्रदेश की जनता इसे कभी नहीं भूल सकती। भारत माता की संतानों के खून के हर कतरे का हिसाब लेने के लिए देश ने मुझे बैठाया है।

पीएम मोदी ने लोगों से बड़ी संख्या में मतदान की अपील की। लोगों से हाथ उठवाए। कहा कि जब आप कमल का बटन दबाएंगे तो सीधा वह वोट मोदी को मिलेगा। जो लोग धूप में तप कर भाषण सुन रहे हैं उनको विश्वास दिलाता हूं कि उनका वोट बेकार नहीं जाने दूंगा। विकास कर दिखाऊंगा।

बस्ती में मंडल की तीन सीटों बस्ती, संतकबीर नगर व डुमरियागंज के लिए बस्ती के राजकीय पालीटेक्निक मैदान में आयोजित चुनावी जनसभा में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने संतकबीर नगर, डुमरियागंज व बस्ती के मतदाताओं व जनता का आभार व्यक्त किया। सांसदों का धन्यवाद दिया कि आपने मुझे गौरवान्वित होने का अवसर दिया है। पांच साल के लिए धन्यवाद देने आया हूं देश की आकांक्षा पूरी करने के लिए आपसे आशीर्वाद मांगने आया हूं। 

बस्ती में पॉलीटेक्निक के मंच पर भाजपा के प्रत्याशी तथा नेताओं से पीएम मोदी मंच पर बारी-बारी से मिले। यहां मंच पर पीएम मोदी का माल्यार्पण से स्वागत किया गया। भाजपा गोरखपुर के क्षेत्रीय अध्यक्ष डॉ धर्मेंद्र ने स्वागत भाषण किया। बस्ती से भाजपा ने एक बार फिर हरीश द्विवेदी को मैदान में उतारा है। पीएम मोदी ने उनके पक्ष में माहौल बनाने के साथ ही गोरक्षप्रांत की 13 सीटों पर भी अपना जादू चलाया।

लोकसभा चुनाव और क्रिकेट से संबंधित अपडेट पाने के लिए डाउनलोड करें जागरण एप

Posted By: Pradeep Srivastava

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस