बस्ती: कलवारी थाना क्षेत्र के धनौवा निवासी पचास वर्षीय रामलौट पुत्र कोलक की मार्ग दुर्घटना मे हुई मौत से पूरे गांव में मातम पसर गया। दरवाजे पर शव के लिपट कर परिजनों के चीत्कार से कलेजा फट जा रहा था।

मृतक रामलौट के सहारे बेटा 21 संत कुमार, 16 संदीप, बेटी 18 सीमा, 13 नेमू का पालन पोषण व पढ़ाई मेहनत मजदूरी कर करता था। पत्नी कलावती देवी के मंद बुद्धि होने के कारण परिवार की परवरिश लेकर सारी जिम्मेदारी इन्हीं के कंधे पर थी । लेकिन इस हादसे ने पूरे परिवार को अनाथ कर दिया। वहीं कलावती व बेटी सीमा, नेमू का रो-रोकर बदहवास हो जा रही है। उनका एक ही सवाल था कि अब परिवार किसके सहारे रहेगा। हमारी परवरिश कौन करेगा। परिजनों का करुण क्रंदन सुनकर दरवाजे पर मौजूद हर व्यक्ति की आंख नम हो गई।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस