जासं, मुंडेरवा, बस्ती: मुंडेरवा- कुदरहा मार्ग पर महीनों से गिट्टी डालकर छोड़ने से लोगों को आवागमन में दिक्कत हो रही है। गाड़ियों के आने जाने की वजह से सड़क पर उड़ रही धूल से लोग श्वांस रोग के शिकार हो रहे हैं। रोड के अगल-बगल निवास कर रहे लोगों ने शनिवार को सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र मुंडेरवा के पास विरोध प्रर्दशन कर सड़क निर्माण की मांग किया है।

48 करोड़ की लागत से बन रहे 23 किलोमीटर लंबे मुंडेरवा महादेवा मार्ग पर लगभग तीन महीने पहले गिट्टी डालकर छोड़ दिया गया। इसके बाद अब तक उस पर कोई कार्य नहीं किया जा रहा है। सड़क से गुजरने वाले वाहनों के पीछे उड़ता धूल राहगीरों के साथ ही सड़क किनारे रहने वाले लोगों के घरों तक में पहुंच रहा है। धूल की वजह से घरों में रखा खाने पीने का सामान, कपड़ा आदि तो खराब हो जा रहे हैं, साथ ही लोगों की सांस भी फूलने लगी है। सड़क किनारे स्थित सांई पब्लिक स्कूल, यूपीएस इंटर कालेज, ग्रेस मिशन स्कूल में पढ़ने वाले बच्चों को भी धूल से परेशानी हो रही है। वहीं जलपान की दुकान करने वाले लोगों ने बताया कि सड़क पर पानी भी नहीं डाला जा रहा है। ऐसे में धूल उड़कर खाने पीने के सामान को खराब कर रही है। धूल की वजह से ग्राहक दुकान पर नहीं बैठते। इस परेशानी से आजिज आकर लोगों ने अविलंब सड़क निर्माण की मांग करते हुए विरोध प्रर्दशन किया। उन्होंने सड़क निर्माण अविलंब शुरू कराने की मांग की।

अवध बिहारी सिंह उर्फ त्रिपुरारी, जुगुल किशोर चौधरी, ज्वाला प्रसाद यादव, अमर राय, मलिकार अग्रहरि, प्रदीप सिंह, अजय मौर्य, रामदीन अन्य लोग मौजूद रहे।

Edited By: Jagran