जागरण संवाददाता, बस्ती : चहुंओर देवी की आराधना से माहौल भक्तिमय हो गया है। मंदिरों में भजन, कीर्तन एवं देवी गीतों की धूम मची है। सुबह-शाम देवी भक्त धूप, कपूर, अगरबत्ती, फूल, चंदन आदि पूजन सामग्रियों के साथ घर से लेकर मंदिर तक पूजन-अर्चन कर मां भगवती का आह्वान कर रहे हैं। आरती में शामिल होने के दौरान मइया के जयकारे लगाकर लोग निहाल हो रहे हैं।

नवरात्रि के दूसरे दिन श्रद्धालुओं ने देवी द्वितीय स्वरूप ब्रह्मचारिणी की आराधना की। घरों में स्थापित कलश के सामने मां भगवती की अखंड ज्योति के समक्ष देवी का आह्वान हुआ। परिवार के साथ लोग पूजन-अर्चन किया। श्रद्धालु मंदिरों में देवी दर्शन के लिए भी पहुंच रहे हैं। रौता चौराहा स्थित दुर्गा मंदिर, आवास विकास मां काली मंदिर, रेलवे स्टेशन स्थित मां काली शक्ति पीठ, बैड़ा समय माता मंदिर भानपुर, सरघाट देवी मंदिर रुधौली आदि देवी मंदिरों में श्रद्धालुओं का अनुष्ठान, पूजन अनवरत जारी है। आस्था का केंद्र बना बधवा समय माता मंदिर

मुंडेरवा : कठनइया नदी के तट पर स्थित बधवा समय माता का प्राचीन मंदिर श्रद्धालुओं के आस्था का केंद्र बना है। नवरात्र में यहां पूरे दिन श्रद्धालुओं का आना जाना लगा हुआ है। पुजारी बाढ़ू दास व भोलेनाथ ने बताया कि यहां सच्चे मन अर्जी लगाने वालों की मइया जरूर सुनती है। श्रद्धालु रूपम पांडेय, शिखा पांडेय व कुसुम राय तथा मालती देवी ने बताया कि हम लोग काफी दिन से इस मंदिर पर देवी की पूजा अर्चना के लिए आते हैं।

इंडियन टी20 लीग

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस