जागरण संवाददाता, मुंडेरवा : प्रदेश के खाद्य एवं रसद विभाग के विशेष सचिव ओपी वर्मा शनिवार को सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र (सीएचसी) मुंडेरवा पहुंचे। निरीक्षण कर चिकित्सा एवं स्वास्थ्य सुविधाओं का जायजा लिया। कहा कि कोरोना संक्रमण के रोकथाम के लिए व्यापक इंतजाम होना चाहिए। मरीज को भर्ती कर बेहतर सुविधा दी जाए, ताकि संक्रमण का खतरा समय से टाला जा सके।

विशेष सचिव चिकित्सालय में व्याप्त खामियों को डिप्टी सीएमओ डा. सीएल कनौजिया को तत्काल ठीक कराने का निर्देश दिया। पाजिटिव मरीजों को भर्ती तथा उपचार की उपलब्धता के संबंध में जानकारी ली। क्षेत्र में नियमित रूप से आमजन की कोरोना जांच के निर्देश दिए। चिकित्सालय परिसर में वार्ड में आक्सीजन की उपलब्धता को देखा। बताया कि प्रदेश में बढ़ रहे कोरोना संक्रमण को रोकने के लिए प्रभावित मरीजों को आवश्यक उपचार के लिए बुनियादी सुविधाओं का जायजा लिया जा रहा है। जहां पर खामियां हैं उन्हें ठीक करने का निर्देश दिया जा रहा है। डा. फारूक, डा. रवि, फार्मासिस्ट अखिलेश श्रीवास्तव, देवेंद्र नेत्र परीक्षण अधिकारी, ओपी यादव, लैब टेक्नीशियन, अरविद भाष्कर, संतोष आदि रहे।

-

विशेष सचिव गोशाला मकदूमपुर पहुंचे, जांची व्यवस्था

जासं. देईसाड़ : विशेष सचिव खाद्य एवं रसद ओपी वर्मा शनिवार को बनकटी विकास क्षेत्र के मकदूमपुर व सदर क्षेत्र के भौसिंहपुर स्थित अस्थाई गो-आश्रय स्थलों का निरीक्षण किया। क्षमता के सापेक्ष पशुओं की कम संख्या मिलने पर नाराजगी जताई। पशुओं की संख्या बढ़ाने व पशुओं के खानपान की व्यवस्था बेहतर बनाने का निर्देश दिया। मकदूमपुर में नौ पशु मिले, इस पर वह नाराज दिखे। भौसिंहपुर में 20 पशुओं की क्षमता वाले गो-आश्रय स्थल में 27 पशु संरक्षित मिलने पर उनके खानपान व चारे की बेहतर व्यवस्था कराने का निर्देश दिया। मुख्य पशु चिकित्साधिकारी डा. अश्वनी कुमार त्रिपाठी, अपर मुख्य चिकित्सा अधिकारी डा. फखरेयार हुसैन, राजकीय पशु चिकित्सालय बनकटी के डा. प्रशांत कुमार, सुशील कुमार शुक्ल, सचिव सर्वेश यादव, ग्राम प्रधान गुड्डू, परदेशी आदि लोग मौजूद रहे।

Edited By: Jagran