मोदी सरकार - 2.0 के 100 दिन

बस्ती : रेलवे सुरक्षा बल (आरपीएफ) को बुधवार को बड़ी कामयाबी मिली। रेलवे लाइन काटने वाले फरार दोनों आरोपितों को आरपीएफ ने बनकटा रेलवे ओवरब्रिज के पास से गिरफ्तार किया है। बता दें कि दोनों के खिलाफ 5 जुलाई को बिना रेलवे की अनुमति के कार्य करते समय सिग्नल लाइन काट दी थी। इससे सात घंटे रेल यातायात सेवा प्रभावित रही। दोनों के खिलाफ आरपीएफ ने केस दर्ज किया था, तभी से फरार चल रहे थे। मौके से आरपीएफ ने जेसीबी बरामद की थी।

बता दें कि बनकटा रेलवे ओवरब्रिज का निर्माण केएमसी कंपनी करा रही है। रेल ट्रैक के पास जेसीबी से खुदाई के दौरान रेलवे का सिग्नल तार कट गया। इससे ट्रेनें जहां-तहां खड़ी हो गईं। करीब सात घंटे बाद लाइन दुरुस्त करने के बाद यातायात बहाल हुआ था। आरपीएफ इंस्पेक्टर नरेंद्र यादव ने केएमसी प्रबंधक राम चंद्र चौधरी निवासी मंझेरिया थाना नगर और जेसीबी आपरेटर रवि चौधरी पुत्र राम बचन चौधरी निवासी द्वारिकाचक थाना सोनहा के खिलाफ रेलवे एक्ट में केस दर्ज किया था। तभी से दोनों फरार थे। बुधवार को मुखबिर की सूचना पर उप निरीक्षक आरपीएफ योगेंद्र प्रताप ¨सह, कांस्टेबल मान ¨सह व इंद्रजीत गिरि बनकटा रेलवे क्रा¨सग के पास दोनों आरोपितों को गिरफ्तार कर लिया।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप