बस्ती : राष्ट्रीय खाद्य सुरक्षा योजना के तहत जनपद में सामान्य बीज वितरण के लिए मिले लक्ष्य में भारी चूक हुई है। एक तो लक्ष्य से अधिक बीज वितरण कर दिया गया, जब भुगतान की बारी आई तो संबंधित कर्मचारी समझ नहीं सके और 40 लाख रुपये बीज मद का बजट वापस हो गया।

वित्तीय वर्ष 2018-19 में सामान्य वितरण के तहत 3200 क्विटल गेहूं बीज का लक्ष्य आया था। यहां लक्ष्य से अधिक गेहूं बीज वितरित कर दिया गया। करीब 5000 क्विटल बीज वितरित कर दिया गया। भुगतान के लिए करीब 50 लाख रुपये प्राप्त हुए। केंद्रांश और राज्यांश मद में किसानों को भुगतान दिया जाना था। इस मद में 25 लाख रुपये का भुगतान तो कर दिया गया, लेकिन जो केंद्रांश से राज्यांश का पैसा भेजा जाना था, उसे समय से नहीं भेजा गया। बाद में 25 लाख रुपये वापस करना पड़ा। इसी तरह प्रमाणित बीज वितरण में करीब 15 लाख रुपये वापस करने पड़े। बताया जा रहा है कि मटर बीज वितरण में अभी भी 15 लाख रुपये का भुगतान किसानों का बचा हुआ है।

----------

सामान्य बीज वितरण लक्ष्य से अधिक हो गया था। जो धनराशि मिली थी, उसमें केंद्रांश और राज्यांश मद में भुगतान किया गया था। बाद में फरमान आया कि केंद्रांश का आधा पैसा राज्यांश से करना है, तकनीकी पेंच से भुगतान नहीं हो सका। जिन किसानों का पैसा बचा है, उनका भुगतान जल्द किया जाएगा।

डा. संजय कुमार त्रिपाठी, उप निदेशक कृषि

लोकसभा चुनाव और क्रिकेट से संबंधित अपडेट पाने के लिए डाउनलोड करें जागरण एप

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस