बरेली, जेएनएन। Youth kidnapped from Bareilly : बरेली के थाना सुभाष नगर के करगैना में रह कर पढ़ाई करने वाले छात्र का बुधवार शाम को कार सवार बदमाशों ने अपहरण किया था। उसे बेहोश कर ले जा रहे थे कि इसी दौरान उसे बदायूं के नवादा के पास हो आ गया। उसने चीखना शुरू किया तो कुछ लोगों ने कार का पीछा किया, यह देख बदमाश युवक को छोड़कर फरार हो गए। सूचना पर पहुंची पुलिस उसे सिविल लाइंस कोतवाली ले गई। जहां स्वजन के पहुंचने पर छात्र को उनके सुपुर्द कर दिया गया।

मूल रूप से बदायूं के थाना वजीरगंज क्षेत्र के गांव मानसपुर निवासी पप्पू अली का पुत्र जीशान सीआरपीएफ की तैयारी कर रहा है। वह टेस्ट में फिजिकल पास कर चुका है और अब लिखित परीक्षा की तैयारी बरेली के थाना सुभाष नगर के बदायूं रोड करगैना स्थित दीक्षांत एकेडमी में कर रहा है। बुधवार शाम वह अपने कमरे से दवा लेने की बात कहकर निकला था। इसी दौरान रास्ते में उसे बेहोश कर कार में बैठा लिया गया। जिसके बाद उसे बदायूं में होश आया। कार में कुछ लोगों के बीच खुद को बैठा देख उसने चीखना शुरू कर दिया।

कार के शीशे से सिर बाहर निकाल कर चीखा तो वहां मौजूद कुछ लोगों ने कार का पीछा करना शुरू कर दिया। यह देख कार सवार बदमाश जीशान को शहर के सिविल लाइंस कोतवाली क्षेत्र के दातागंज तिराहे के पास छोड़कर फरार हो गए। इसके बाद पीछा कर रहे लोगों ने सूचना पुलिस को दी। मौके पर पहुंची पुलिस जीशान को सिविल लाइंस कोतवाली ले आई। जहां उसने बताया कि जब वह दवा लेकर लौट रहा था उसी समय एक काले कपड़े पहले व्यक्ति ने उसकी तरफ फूक मारकर कुछ उड़ा दिया था, जिसके बाद वह कुछ दूर चल कर बेहोश हो गया।

इसके बाद उसे बदायूं में होश आया। बताया कि उसे ले जाने वाले लोग कौन थे वह नहीं जानता है। इस पर जीशान के स्वजन को बुलाया गया। जीशान के भाई व पिता ने बरेली में ही शिकायत करने की बात कही, इस पर सिविल लाइंस पुलिस ने जीशान को उनके सुपुर्द कर दिया। सिविल लाइंस इंस्पेक्टर राजकुमार तिवारी ने बताया कि युवक को दातागंज तिराहे के पास से बरामद किया गया था। वह अपहरण कर यहां लाए जाने की बात कह रहा था। हालांकि उसकी कहानी कुछ संदिग्ध लग रही थी। लेकिन छात्र के स्वजन ने कार्रवाई करने से इन्कार कर दिया। इसके बाद छात्र को स्वजन के सुपुर्द कर दिया गया, वह उसे साथ ले गए हैं। 

Edited By: Samanvay Pandey