बरेली, जेएनएन। Boycott of Chinese Products : दीपावली व अन्य त्योहारों में चीन के उत्पादों को छोड़ स्वदेशी पर निर्भरता बढ़ाने के लिए महिलाएं कमान संभालेंगी। इंडियन इंडस्ट्रीज एसोसिएशन की पहल पर इसके लिए महिलाओं को प्रशिक्षित करने का काम शुरू हो गया है। शुक्रवार को शहर के तक्षशिला पब्लिक स्कूल में दो दिवसीय शिविर का डीएम इंद्र विक्रम सिंह व एसपी एस आनंद ने उद्घाटन किया।

आइआइए के राष्ट्रीय अध्यक्ष अशोक अग्रवाल ने बताया कि शिविर में नमामि गंगे परियोजना के तहत चयनित गांवों की 40 से अधिक महिलाओं को एलईडी बल्ब व झालरें बनाने का व्यावसायिक प्रशिक्षण लखनऊ से आए प्रशिक्षक विवेक सिंह ने दिया। अग्रवाल ने बताया कि जिले में रोज़गार सृजन के साथ-साथ महिला स्वाबलम्बन व लघु उद्योगों के निर्यात को बढ़ावा मिल सके इसीलिए यह अयोजन किया जा रहा है। डीएम व एसपी ने इस प्रयास को सराहा। एसपी ने पुलिस लाइंस में भी महिलाओं के लिए इस शिविर को लगाने की बात कही। इस दौरान रोहित गोयल, अरुण खंडेलवाल, अभिनव ओमर, शुभम खन्ना आदि मौजूद रहे।

विजेताओं को मिला सम्मान : युवा कल्याण एवं प्रादेशिक विकास दल विभाग की ओर से बरेली में हुए युवा उत्सव के विजेताओं को जीएफ कालेज पहुंचने पर पुरस्कृत किया गया। प्रतियोगिता में बरेली, मुरादाबाद प सहारनपुर मंडल के विद्यार्थियों ने हिस्सा लिया था। जिसमे जीएफ कालेज के विद्यार्थियों ने पहला स्थान हासिल किया था। इन छात्रों का चयन अब लखनऊ में होने वाले राज्य स्तरीय ''युवा उत्सव के लिए किया गया है।

बीएससी तृतीय वर्ष के छात्र आंजनेय मिश्रा को शास्त्रीय वादन-हारमोनियम में पहला स्थान मिला। ललित हरि मिश्रा बीएड प्रथम वर्ष को भाषण प्रतियोगिता में पहला स्थान हासिल किया। प्राचार्य डा. मोहम्मद तारिक ने कहा कि आज देश को ऐसे हो कर्मठ, विवेकशील युवाओं की जरूरत है। डा. मोहम्मद साजिद खान, डा. मोहम्मद काशिफ नईम आदि मौजूद रहे।

Edited By: Samanvay Pandey