बदायूं, जागरण संवाददाता। जिले की यूपी-112 की पुलिस टीम ने बीते माह बेहतर कार्य करते हुए अपनी रैंकिंग में सुधार किया है। बदायूं ने इस माह 51 पायदान की छलांग लगाकर 56वें स्थान से टाप-5 में जगह बना ली है। अब प्रदेश के टाप-5 जिलों में गौतमबुद्ध नगर, शामली, बुलंदशहर औ मुजफ्फर नगर के अलावा बदायूं का नाम भी शामिल हो गया है। सोमवार को लखनऊ में जारी हुई रैकिंग में यह जानकरी दी गई। इसके अलावा लखनऊ में आयोजित कार्यक्रम में बदायूं के यूपी-112 प्रभारी निरीक्षक संजय गर्ग को प्रशस्ति पत्र देकर सम्मानित किया गया।

बीते माह और इससे पहले यूपी-112 की रैकिंग में बदायूं की स्थित बेहद खराब थी। इस माह बदायूं की टीम की कार्यशाला आयोजित कर उन्हें स्थिति सुधारने को कहा गया था। इसके बाद यूपी-112 पुलिस टीम ने बदायूं का नाम रोशन करने वाला काम किया। सोमवार को जारी हुई रैकिंग में इवेंट मिलते ही रवाना होने की स्थिति, इवेंट स्वीकारने, रास्ता तय करने, समय से पहुंचने और कार्रवाई करने आदि का आंकलन किया गया। जिसमें बदायूं की स्थिति बेहतर पाई गई। बीते माह बदायूं ने 2600 से ज्यादा इवेंट कवर किए। जिसमें 95 प्रतिशत मामलों में बदायूं की यूपी-112 की पीआरवी दस मिनट से पहले पहुंची। इसके आधार पर ही जारी हुई रैकिंग में गौतमबुद्ध नगर को पहला, शामली को दूसरा, बुलंदशहर को तीसरा, मुजफ्फरनगर को चौथा व बदायूं काे पाचवां स्थान दिया गया। इस रैंकिंग जारी किए जाने के साथ ही उत्कृष्ट कार्य करने वाले प्रभारियों को सम्मानित भी किया गया। लखनऊ में आयोजित कार्यक्रम में प्रदेश के सभी यूपी-112 प्रभारियों को बुलाया गया था। जहां बदायूं के प्रभारी निरीक्षक संजय गर्ग को यूपी-112 के अपर पुलिस महानिदेशक अशोक कुमार सिंह ने प्रशस्ति पत्र प्रदान करते हुए उनके उज्जवल भविष्य की कामना की।

बदायूं ने बचाई बरेली मंडल की लाज: प्रदेश के सभी मंडलों में सबसे बेहतर प्रदर्शन मेरठ मंडल का रहा, जिसके दो जिले टाप-5 में शामिल हुए। वहीं बरेली मंडल के चारों जिलों में बदायूं ही टाप-5 में जगह बनाने में सफल रहा है। बरेली मंडल में बदायूं के अलावा बरेली, शाहजहांपुर और पीलीभीत की स्थिति रैंकिंग में खासी खराब बताई गई। तीनों जिले टाप-30 में भी नहीं हैं।

एसएसपी डा. ओपी सिंह ने कहा कि यूपी-112 के रिस्पांस टाइम समेत अन्य सभी मापदंडों में बेहतर प्रदर्शन के लिए जिले की पूरी टीम को बहुत-बहुत बधाई। टीम इसी तरह आगे भी कार्य करती रहे और जिले को नंबर एक बनाने का प्रयास करे। - डा. ओपी सिंह, एसएसपी

Edited By: Vivek Bajpai