बरेली, जेएनएन। BJP Leader Dumpy Murder Case : बहुचर्चित भाजपा नेता यूनुस अहमद उर्फ डंपी हत्याकांड के चश्मदीद वसीम अली की दो वर्षीय मासूम बेटी अमायरा का अपहरण कर लिया गया। घुमाने के बहाने अमायरा के मामा जफर के संग वसीम का दोस्त आरोपित शुभम जैन उर्फ शिब्बू पीलीभीत रोड स्थित माल ले गया फिर गायब हो गया। रुबीना की तहरीर पर इज्ज्तनगर पुलिस ने अपहरण की रिपोर्ट दर्ज कर ली। इसी बीच मुरादाबाद से कैंटर चालक ने रुबीना को फोन कर किया बेटी के बारे में जानकारी दी। रुबीना ने इज्जतनगर पुलिस को बताया। पाकबड़ा पुलिस से संपर्क कर इज्जतनगर पुलिस ने बच्ची को सकुशल बरामद कर लिया।

बारादरी के जोगी नवादा की रहने वाली रुबीना रेहाना ने बताया कि आरोपित शुभम जैन उर्फ शिब्बू उनके पति वसीम अली का दोस्त है। शुभम का घर आना जाना था। 17 अक्टूबर को वह घर आया। बेटी अमायरा को घुमाने की बात कही। उस वक्त अमायरा के मामा जफर भी घर में थे। मामा के संग अमायरा को लेकर वह पीलीभीत रोड स्थित माल गया। यहां मामा से घुमाने की बात कह वह बेटी को लेकर फरार हो गया।

बेटी का कोई सुराग न मिलने पर रुबीना ने शुभम की मां सपना जैन को फोन कर पूरी कहानी बताई। उन्होंने शुभम की जानकारी से इन्कार कर दिया। इज्जतनगर थाने में शुभम पर अपहरण का मुकदमा दर्ज किया गया। इसी बीच मुरादाबाद से एक कैंटर चालक नौशाद ने फोन कर रुबीना को अमायरा के बारे में जानकारी दी। रुबीना बहन शहनाज के साथ मुरादाबाद के पाकबड़ा पहुंची। जहां इज्जतनगर पुलिस की उपस्थिति में बच्ची काे स्वजन को सौंप दिया गया। आरोपित शुभम जैन फरार है।

कैंटर चालक से शुभम ने अपने सामने ही कराया फोन

आरोपित शुभम ने कैंटर चालक नौशाद से मासूम की मां को अपने सामने ही फोन कराया। उसने नौशाद को बताया था कि बच्ची के मां-बाप नहीं मिल रहे हैं। हमारे पास फोन नहीं है। फोन कर बच्ची के माता-पिता को जानकारी दे दो। नौशाद रुबीना को फोन कर अमायरा के बारे में जानकारी देने लगा, इसी बीच शुभम फरार हो गया।

बारादरी थाने में वसीम समेत उसके स्वजन की दर्ज है गुमशुदगी

यूनुस अहमद उर्फ डंपी हत्याकांड के कुछ समय बाद से ही वसीम स्वजन समेत लापता हैं। बारादरी में पत्नी रुबीना बेटी अमायरा के साथ रह रही हैं। वसीम व उसके स्वजन के लापता होने की बारादरी थाने में करीब आठ माह पहले गुमशुदगी दर्ज की गई थी जबकि वसीम के लखनऊ में रहने की बात सामने आई है। बावजूद गुमशुदगी दर्ज कर बारादरी पुलिस ने वसीम व उसके स्वजन की कोई तलाश नहीं की।

कोर्ट में चल रहा ट्रायल

भाजपा नेता डंपी की हत्याकांड मामले का कोर्ट में ट्रायल चल रहा है। हत्याकांड में तीन आरोपित सिराजुद्दीन, ईसामुद्दीन व आसिफ जेल में हैं। वसीम घटना के चश्मदीद होने के साथ मृतक डंपी के सगे साढू हैं।

मासूम को सकुशल बरामद कर उसकी मां रुबीना को सौंप दिया गया है। फरार आरोपित शुभम की तलाश की जा रही है। उसके पकड़े जाने के बाद ही मासूम के अपहरण की कहानी सामने आएगी। - संजय कुमार, इंस्पेक्टर, इज्जतनगर

Edited By: Ravi Mishra