बदायूं, जेएनएन : शहर में 15 जुलाई को पेट्रोल पंप मैनेजर से हुई साढ़े 13 लाख रुपये की लूट का पुलिस ने सोमवार को खुलासा कर दिया है। रविवार रात सिविल लाइंस थाने के कुरऊ के जंगल में मुठभेड़ के बाद तीन शातिर बदमाश पकड़े गए हैं। एक बदमाश गोली लगने से घायल हुआ है, वहीं दारोगा को भी चोट लगी है। आरोपितों के पास से लूट के 12.60 लाख रुपये भी बरामद हुए हैं। फिलहाल पकड़े गए दो आरोपितों से पुलिस पूछताछ कर रही है।

एसएसपी अशोक कुमार त्रिपाठी ने बताया कि पुलिस को रविवार रात पैट्रोल पंप मैनेजर से लूट करने वाले बदमाशो की लोकेशन कुरऊ गांव में मिली। बदमाशों को पकड़ने के लिए मौके पर पुलिस ने घेराबंदी की। पुलिस को देखते ही बदमाशों ने फायर कर दिया। पुलिस ने भी जबावी फायरिंग की। इसमें उझानी के गांव पड़ौला के रहने वाले अशोक श्रीवास्तव पैर में पुलिस की गोली लगने से घायल हो गया। वहीं, कोतवाली में तैनात दारोगा हरसिंह पाल भी साधारण रुप से चुटहिल हो गए। हालांकि पुलिस ने उसके दोनों साथियों को भी धर दबोचा। दोनों बदमाश सिविल लाइंस के निवासी अनुपम पाठक और राहुल हैं। पुलिस का दावा है कि बदमाशों से 12.60 लाख रुपये बरामद किये गए हैं। अभी दोनाें बदमाशों से पूछताछ की जा रही है। घायल बदमाश अशोक को अस्पताल में भर्ती कराया गया है। 

क्या है पूरा मामला 

बरेली रोड पर दास काॅलेज के सामने स्थित अनेजा ग्रुप के पंजाब आटो मोबाइल्स पेट्रोल पंप के मैनेजर नरेंद्र कुमार सिंह से बीते सोमवार को सदर कोतवाली इलाके में बगिया दरवाजा के पास यह लूटपाट हुई थी। लुटेरों ने स्कूटी सवार नरेंद्र पर पहले मिर्ची पाउडर डाला, पाउडर आंख में न गिरने पर तमंचे के बल पर उनका कैश वाला बैग लूटकर बाइक से फरार हो गए थे। इस घटना की गूंज शासन तक पहुंची थी और एडीजी अविनाश चंद्र को मौका मुआयने के लिए आना पड़ा। पुलिस समेत स्वाट टीम इस वारदात को अंजाम देने वालों की धरपकड़ में जुटी थी।

Posted By: Abhishek Pandey

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस