बरेली, जेएनएन। Dispute Between Traders and Councilors in Bareilly : पीलीभीत बाइपास की एक कालोनी में गेट लगाने को लेकर व्यापारियों व पार्षदों के बीच घमासान मच गया। व्यापारियों ने सीएम पोर्टल पर शिकायत की तो नगर निगम की टीम गेट को उखाड़ ले गई। फिर पूर्व सभापति व पार्षदों के विरोध करने पर गेट वापस दे दिया गया।

पीलीभीत बाइपास रोड पर बजरंग ढाबा के पास के दुकानदार विजय कुमार, पुनीत अग्रवाल, राम औतार ने सीएम पोर्टल पर 11 सितंबर 2021 को शिकायत की थी। उन्होंने असामाजिक तत्वों द्वारा अवैध रूप से कालोनी में गेट लगाकर मार्ग अवरुद्ध करने का आरोप लगाया था। साथ की कहा कि इसका विरोध करने पर गेट लगाने वाले झगड़ा करने पर उतारू हो गए। उन्होंने गेट हटाने की मांग की थी।

करीब तीन दिन पहले नगर निगम की टीम मौके पर पहुंचकर गेट हटाने लगी तो कुछ लोगों ने विरोध कर दिया। तब टीम वापस लौट आई। दुकानदारों ने महापौर से शिकायत की तो टीम को दोबारा जाना पड़ा। टीम वहां से गेट हटाकर निगम ले आई। इस पर पूर्व उपसभाति छंगामल मौर्य के साथ कुछ लोगों ने निगम पहुंचकर विरोध जताया और गेट वापस लेकर चले गए। इसे लेकर कालोनी में तनाव बना हुआ है।

पूर्व उपसभापति छंगामल मौर्य ने बताया कि नगर निगम ने बिना जांच किए गेट हटा दिया, जो ठीक नहीं है। इसे लेकर अधिकारियों से बात की है। राजस्व निरीक्षक सच्चिदानंद ने बताया कि पोर्टल पर शिकायत के बाद गेट को हटाकर ले आए थे। लोगों ने इसका विरोध किया, तब गेट लौटाना पड़ा।

Edited By: Ravi Mishra