बरेली, जेएनएन। Bareilly Sugarcane Farmers Online Declaration form : गन्ना किसानों को इस बार आनलाइन घोषणा पत्र भरना है। जिसे भरने से रह गए किसानों को अंतिम मौका देते हुए 30 अक्टूबर तक का समय दिया गया है। दरअसल विभाग ने बड़ी संख्या में किसानों के घोषणापत्र न भरे जाने की वजह से समय सीमा बढ़ाई है। जिला गन्ना अधिकारी पीएन सिंह ने बताया पहली बार गन्ना किसानों को बिचौलियों से मुक्ति दिलाने के लिए आनलाइन घोषणा पत्र भरने का नियम बनाया गया है। जिसको लेकर कई बार समय सीमा बढ़ाने के बाद भी केवल एक लाख 90 हजार किसानों में एक लाख किसानों ने अब तक आनलाइन घोषणा पत्र नहीं भरा है। विभाग की वेबसाइट में तकनीकी गड़बड़ियों की वजह से भी किसान आनलाइन घोषणा पत्र नहीं भर पा रहे। साथ ही इधर कई छुट्टियां भी रहीं। इसको देखते हुए समय बढ़ाया है। अब किसान 30 अक्टूबर तक आनलाइन घोषणापत्र भर सकते हैं । किसानों की सहूलियत के लिए सभी समितियों पर स्टाफ की ड्यूटी भी लगाई है। विभाग का फील्ड स्टाफ भी घोषणापत्र भरने में किसानों की मदद करेगा।

वन्य जीव संरक्षण की दी जानकारी : खंडेलवाल कालेज में जन्तु विभाग द्वारा वन्य जीव संरक्षण पर प्रधान वैज्ञानिक आइवीआरआइ डा.अमरपाल ने छात्रों को पर्यावरण व जीव जन्तु के संतुलन में जो बदलाव आ रहे हैं उनसे मानव जाति प्रभावित हो रही है। जंगलों के विलुप्त होने से जीव जन्तुओं के रहन सहन व स्थान प्रभावित हो रहे हैं। अन्य समस्याओं को एवं वन्य जीव संरक्षण के बारे में विस्तृत जानकारी दी। जीव जन्तुओं की प्रजातियों को बचाने के लिए कई संदेश विभिन्न प्रतियोगिताओं द्वारा दिए गए। इन प्रतियोगिताओं में हैंड पेटिंग, पोस्टर मेकिंग, क्वीज प्रतियोगिता और मास्क स्लोगन के माध्यम से सकारात्मक संदेश दिए। विजेताओं को प्रबंध निदेशख डा. विनय खंडेलवाल, प्राचार्य डा. आरके सिंह, विभागाध्यक्ष रेखा गंगवार ने पुरस्कृत किया।

Edited By: Samanvay Pandey