बरेली(जेएनएन)। मथुरापुर स्थित इस्लामिक स्टडी सेंटर मदरसा जामियातुर्रजा में मौलाना (शिक्षक) की पिटाई से कक्षा दो का छात्र बेहोश हो गया। देर रात उसे अस्पताल में भर्ती कराया गया। घटना के बाद आक्रोशित अन्य विद्यार्थियों ने मदरसों में विरोध प्रदर्शन किया। हंगामे के बीच मौलाना की बाइक में तोड़फोड़ की। हाईवे जाम करने का प्रयास किया। पुलिस ने छात्रों को समझाकर मामला शांत कराया। मदरसे के सुरक्षाकर्मियों को निर्देशित किया कि रात को गेट न खोलें।

पीड़ित छात्र मूलरूप से बिहार का है। वह मदरसे में रहकर कक्षा दो की पढ़ाई करता है। पढ़ाई के दौरान एक मौलाना ने उसे पीट दिया। इससे उसकी हालत बिगड़ गई और वह बेहोश हो गया। छात्र रात भर अस्पताल में भर्ती रहा। रात को ही एक पूर्व दर्जा राज्यमंत्री अस्पताल पहुंचे और छात्र की हालत की जानकारी ली। उधर, मगरिब की नमाज के बाद जब छात्रों को यह खबर लगी तो वह आक्रोशित हो गए। उन्होंने मदरसे में जमकर हंगामा किया। मौलाना के पिटाई लगाने पर उनकी बाइक में तोड़फोड़ की। बाद में प्रदर्शन करते हुए मदरसे से बाहर हाईवे पर निकल आए। हाईवे जाम करने का प्रयास किया। सूचना पर पुलिस मौके पर पहुंची और छात्रों को समझाकर मामला शांत कराया।

--12वीं कक्षा तक की पढ़ाई

मदरसे में बारहवीं कक्षा तक की पढ़ाई होती हैं। यहां आठ सौ से ज्यादा विद्यार्थी हॉस्टल में रहकर निश्शुल्क तालीम हासिल कर रहे हैं।

-मामले में नहीं मिली कोई तहरीर

थाना सीबीगंज के प्रभारी निरीक्षक श्रीकांत द्विवेदी ने बताया कि शिक्षक द्वारा एक छात्र को पीटने की जानकारी आई है। छात्र के बेहोश होने पर सहपाठियों ने हंगामा किया। उन्हें शांत करा दिया है। कोई तहरीर नहीं मिली है।

--पिटाई नहीं छात्र को वायरल फीवर हो गया था

जमात रजा ए मुस्तफा के उपाध्यक्ष सलमान हसन कादरी का कहना है कि किसी छात्र की पिटाई या हंगामे जैसी घटना नहीं हुई। एक छात्र को वायरल फीवर हो गया था, तभी उसे अस्पताल में भर्ती कराया गया। वहीं, प्रधानाचार्य ने बाहर होने की बात कही।

--बेहोशी की हालत में था छात्र

डॉ. सोमेश मेहरोत्रा ने बताया कि बच्चे को भर्ती किया गया था। वह बेहोशी जैसी हालत में था। किसी तरह की चोट नहीं थी। उपचार के बाद सोमवार को छुट्टी दे दी।

Posted By: Jagran