बरेली, जेएनएन। SP National President Akhilesh Yadav News :  

समाजवादी पार्टी की मंडलीय कार्यशाला में भाग लेने के सपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव गुरुवार को बरेली पहुंचे। अखिलेश यादव के बरेली के फरीदपुर पहुंचने पर मीडिया ने उनसे पूछा कि कोविड वैक्सीनेशन शुरू हुआ है, आप कब लगवाएंगे। इस पर उन्होंने हंसकर जवाब दिया। उन्होंने कहा कि अभी गरीब लगवा लें। हमारी सरकार आने पर हम वैक्सीन लगवाएंगे। इशारों इशारों में उन्होंने मोदी सरकार पर निशाना साधा। दरअसल प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने ऐलान किया है कि वह दूसरे चरण में खुद को कोरोना वैक्सीन लगवाएंगे। वैक्सीनेशन अभियान में दूसरे चरण में प्रधानमंत्री और राज्यों के मुख्यमंत्री को कोरोना टीका लगाया जाएगा। सरकार यह प्रयास जनता में वैक्सीन के लिए विश्वास बढ़ाने के लिए कर रही है, जिससे लोगों में वैक्सीन को लेकर जो भ्रम या अफवाह है। वह न रहे। 

अनुशासन का पढ़ाएंगे पाठ 

झंडे, बैनर और नेताओं की आवाजाही पहले जैसी ही थी, मगर इस बार माहौल एकदम अलग। बुधवार से शुरू हुई समाजवादी पार्टी की मंडलीय कार्यशाला में न तो सेल्फी लेने वाले नेता दिखे और न फोन पर लंबी बात करते जनप्रतिनिधि। यह सब इसलिए ताकि, पूरा ध्यान कार्यशाला में बताए गए चुनावी मंत्रों पर रहे। अनुशासन के बीच पहले दिन चार अतिथियों ने बरेली, पीलीभीत, बदायूं व शाहजहांपुर से आए कार्यकर्ताओं को चुनावी बारीकियां बताईं। पार्टी अध्यक्ष अखिलेश यादव भी कार्यकर्ताओं को चुनाव जीतने के मंत्र बताएंगे।

पीलीभीत बाइपास स्थित हवेली लान में सपा की मंडलीय कार्यशाला की शुरूआत करते हुए प्रदेश अध्यक्ष नरेश उत्तम पटेल ने आगामी विधानसभा चुनाव के लिए जुट जाने को कहा। कार्यकर्ताओं से संवाद किया। मौजूदा हालात में कैसे पार्टी को मजबूत करें, गांवों तक कार्यकर्ता खड़े हों, इसको लेकर भी कार्यशाला में बात हुई।

इसके बाद पहले सत्र में सीपी राय ने मौजूदा राजनीति, दिनोंदिन हावी होते कारपोरेट जगत के बीच खुद को कैसे बचाएं और उसका किस तरह सामना करें, यह कार्यकर्ताओं को बताया।

दूसरे सत्र में शिक्षक सभा के राष्ट्रीय अध्यक्ष केसी पांडेय और तीसरे सत्र में पूर्व राज्यसभा सदस्य जावेद अली ने कार्यकर्ताओं को चुनावी तैयारी के बारे में बताया। इस दौरान मंडल के सभी जिलाध्यक्ष, महानगर अध्यक्ष, पूर्व मंत्री, पूर्व विधायक आदि मौजूद रहे।

ये है अखिलेश यादव का कार्यक्रम

सिटी मजिस्ट्रेट मदन कुमार के अनुसार पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव गुरुवार दोपहर साढ़े बारह बजे लखनऊ से प्राइवेट वायुयान द्वारा बरेली के लिए निकलेंगे।

दोपहर करीब 1.10 बजे वह बरेली हवाई पट्टी पर पहुंचेंगे।

इसके बाद वहां से 1.20 बजे कार से कार्यक्रम स्थल की ओर जाएंगे।

दोपहर करीब 1.30 बजे वह फनसिटी के पास स्थित हवेली रिसोर्ट पहुंचेंगे।

यहां आयोजित कार्यक्रम में कार्यकर्ताओं को चुनावी रणनीति समझाएंगे। कार्यक्रम के बाद पूर्व मुख्यमंत्री पीलीभीत रोड स्थित होटल रेडिसन में रात्रि विश्रम करेंगे। 22 जनवरी शुक्रवार को अपनी सुविधानुसार शहर से प्रस्थान करेंगे।

सपा में गुटबाजी, अखिलेश के सामने होगी परेड

समाजवादी पार्टी के स्थानीय संगठन में बीते दिनों गुटबाजी चरम पर देखी गई। कार्यकर्ताओं के बीच धक्का-मुक्की और अभद्रता की घटनाएं भी हुई। महानगर कोषाध्यक्ष का मामला तो काफी चर्चित रहा। उन्होंने तो राष्ट्रीय अध्यक्ष, प्रदेश अध्यक्ष से भी शिकायत की। राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव पुराने लोगों से यहां की जानकारी लेते रहे। राजनीतिक सूत्रों के अनुसार वह स्थानीय संगठन में गुटबाजी को लेकर कार्यकर्ताओं की परेड भी करा सकते हैं। यहां की गुटबाजी को खत्म कराने को कड़े फैसले भी ले सकते हैं।

 25 विधानसभा क्षेत्र के कार्यकर्ता रहे मौजूद

सपा की मंडलीय कार्यशाला में 25 विधानसभा क्षेत्रों से आए कार्यकर्ता शामिल हुए। हर विधानसभा क्षेत्र से सौ कार्यकर्ता शामिल हुए हैं। सुबह से ही कार्यकर्ताओं के आने का सिलसिला शुरू हुआ जो दोपहर बाद तक जारी रहा। कार्यक्रम स्थल के बाहर सैकड़ों वाहन खड़े होने से पीलीभीत रोड पर जाम की स्थिति बनी रही।

पास नहीं बनने पर भटकते रहे कार्यकर्ता

कार्यशाला में अंदर जाने के लिए बिना पास के एंट्री नहीं थी। कार्यकर्ताओं के पास बनाने का काम सभी विधानसभा क्षेत्र के अध्यक्षों को दिया गया था। बावजूद इसके तमाम कार्यकर्ताओं के पास नहीं बने थे। पास नहीं होने के कारण उन्हें प्रवेश नहीं दिया गया। इस पर तमाम कार्यकर्ताओं ने अपने क्षेत्र के पदाधिकारियों को फोन लगाकर कार्यक्रम स्थल पर ही पास बनवाए।

मोबाइल फोन ले जाने पर भी प्रतिबंध

कार्यक्रम को गोपनीय बनाने के लिए कार्यशाला में मोबाइल ले जाने पर पाबंदी थी। कई कार्यकर्ता, पदाधिकारी कार्यक्रम स्थल तक मोबाइल फोन लेकर पहुंच गए। उन्हें गेट पर ही रोक लिया गया। इस पर उन्होंने इकट्ठे करके फोन गाड़ियों में रखवाए। मोबाइल फोन पर पाबंदी के कारण कोई भी कार्यकर्ता कार्यक्रम के फोटो वायरल नहीं कर सका।

kumbh-mela-2021

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप