जेएनएन, बरेली। आए दिन खुराफाती पुलिस की नाक में दम किए रहते हैं, ऐसा ही एक नया मामला सामने आया है। किसी ने खुराफात के लिए बेटी को दवा दिलाने ले जा रहे पिता पर उसके अपहरण की साजिश रचने की झूठी सूचना यूपी 100 पुलिस से कर दी। पुलिस ने अनहोनी के डर से तुरंत ही युवती के पिता को पकड़ लिया। किशोरी को थाने लाने पर पता चला कि सूचना फर्जी थी। किसी सिरफिरे ने फिरकी लेने के लिए यह हरकत की थी। इसके बाद पुलिस ने थाने से पिता और पुत्री दोनों को छोड़ दिया। अब झूठी शिकायत करने वाले को पुलिस तलाश कर रही है।

शाही थाना क्षेत्र के गांव म्यूड़ी गोटिया के निवासी शमशाद पर उसकी ही बेटी साहबजादी का अपहरण करने की शिकायत यूपी 100 से की गई। पुलिस ने युवती के पिता को हिरासत में ले लिया। बाद में पता लगा कि पिता अपनी पुत्री को दुनका दवाई दिलाने गया था और वहां अपने बड़े भाई बहादुर अली व छोटे के पास छोड़कर घर वापस चला गया। पिता की निशानदेही पर पुलिस उसकी पुत्री को भी पुलिस चौकी ले आई। पूछताछ में युवती ने किसी भी तरह की कोई भी समस्या होने से साफ इन्कार किया। इसके बाद पुलिस ने दोनों को छोड़ दिया। अब पुलिस झूठी सूचना देने वाले की तलाश कर रही है।

--पहले से सतर्क पुलिस ने दिखाई तेजी

इसी गांव में पहले एक युवती का अपहरण कर बलात्कार का मामला आया था। इसमें लापरवाही बरतने पर तत्कालीन प्रभारी को सस्पेंड भी होना पड़ा था। इसी कारण पहले से सतर्क पुलिस ने तेजी दिखाई। आनन फानन में मामले की जड़ तक पहुंचकर इसका पटाक्षेप कर दिया।

Posted By: Jagran