जागरण संवाददाता, बरेली : पढेरा के तस्कर शहीद खां उर्फ छोटे ने जिले में 30 प्रापर्टी खड़ी की। राजस्व टीम ने उनकी कीमत 18 करोड़ रुपये आंकी है। मंगलवार को राजस्व टीम ने पूरी रिपोर्ट एसएसपी को सौंप दी। पीडब्ल्यूडी व राजस्व टीम द्वारा सौंपी गई आकलन रिपोर्ट में बरेली में उसके 22 करोड़ रुपये के साम्राज्य की बात सामने आई है।

18 अगस्त को पढ़ेरा का तस्कर शहीद खां उर्फ छोटे भतीजे सैफ उर्फ राजू के साथ 20 किलो स्मैक के साथ पकड़ा गया था। पुलिस ने तस्कर के भाई, भतीजों समेत पूरे कुनबे पर मुकदमा दर्ज किया था। रिमांड पर शहीद खां ने तस्करी की रकम से खड़े किए गए करोड़ों के साम्राज्य के साथ कई तस्करों के नाम कुबूले थे। इसके आधार पर पुलिस ने मुकदमे में 25 तस्करों को नामजद किया। इधर, तस्कर की कोठी, फैक्ट्री व मार्केट निर्माण में खर्च की गई राशि की आकलन रिपोर्ट पीडब्ल्यूडी तैयार करने में जुटी थी। राजस्व टीम तस्कर की संपत्तियां खंगाल रही थी। पीडब्ल्यूडी ने अपनी रिपोर्ट में कहा कि तस्कर ने दो कोठी, फैक्ट्री व मार्केट के निर्माण में चार करोड़ खर्च किए। राजस्व टीम की रिपोर्ट में तस्कर द्वारा खरीदी गई 30 प्रापर्टी की कीमत 18 करोड़ रुपये बताई। मसलन तस्कर ने सिर्फ बरेली में 22 करोड़ रुपये का साम्राज्य बनाया। दिल्ली व उत्तराखंड में भी तस्कर की संपत्ति होने की बात सामने आई है। बरेली में फरीदपुर, फतेहगंज पूर्वी, फतेहगंज पश्चिमी में हाईवे के पास संपत्ति अर्जित की हैं। सभी संपत्तियां उसने अपने, दो पत्नी व बच्चों के नाम खरीदी।

मौत से डरता था तस्कर, करा रखा था दस लाख का बीमा

तस्कर शहीद खां मौत से बेहद ही खौफ खाता था। उसने दस लाख रुपये का बीमा कराया। एफडी भी कराई। उसके खाते में 65 लाख रुपये मिले थे, जिसे फ्रीज करा दिया गया था। उसके पास दो कार व चार बाइक भी हैं।

दिल्ली नारकोटिक्स को भेजी रिपोर्ट, सभी संपत्तियां होंगी फ्रीज

तस्कर की संपत्तियों का पूरा ब्योरा दिल्ली स्थित नारकोटिक्स ब्यूरो के हेड आफिस भेज दिया गया। एसएसपी रोहित सिंह सजवाण ने बताया कि दिल्ली हेड आफिस से कार्रवाई पूरी होने के बाद तस्कर की संपत्तियां फ्रीज कर दी जाएंगी। इसके बाद से इस संपत्ति का कोई प्रयोग नहीं हो सकेगा।

Edited By: Jagran