बरेली के एनआरसी में कुपोषित बच्चे का इलाज न करने पर तीन घंटे तक हंगामा, गुस्साए पिता ने पर्चा फाड़ा

जेएनएन, बरेली : जिला अस्पताल में शुक्रवार को कुपोषित बच्चे को भर्ती नहीं करने को लेकर हंगामा हो गया। करीब तीन घंटे तक जब बच्चे को भर्ती नहीं किया गया तो गुस्साए पिता ने पर्चा फाड़ दिया। किसी तरह उन्हें शांत कराया गया। हंगामे के काफी देर बात उसे इमरजेंसी में भर्ती किया गया।

शाही थाना क्षेत्र के लमकन गांव के रहने वाले नदीम का एक साल का बेटा है। वह पिछले चार-पांच महीनों से बीमार चल रहा है। पता चला कि बच्चा कुपोषित है। गांव की आंगनबाड़ी के माध्यम से शुक्रवार को उन्हें जिला अस्पताल के पोषण पुनर्वास केंद्र (एनआरसी) भेजा गया। नदीम ने बताया कि वह सुबह 10:30 बजे एनआरसी आ गया था, लेकिन एनआरसी में डाक्टर नहीं होने की वजह से बच्चा भर्ती नहीं किया गया। इमरजेंसी वार्ड से भी उसे भगा दिया गया। एडीएसआइसी कार्यालय पहुंचा तो वहां बैठे दो लोगों ने भगा दिया। इसके बाद गुस्साए पिता ने पर्चा फाड़ दिया और घर वापस जाने लगा। मौजूद किसी स्टाफ ने उसे समझाकर रोका। करीब आधा घंटे बाद दोबारा एडीएसआइसी कार्यालय गया, जिसके बाद बच्चे को इमरजेंसी वार्ड में भर्ती किया गया।

वर्जन ::

जब वो व्यक्ति अपने बच्चे को लेकर यहां आया तब तक उसने अपना पर्चा फाड़ लिया था। उसकी पूरी बात सुनने के बाद उसे इमरजेंसी वार्ड में भर्ती करा दिया गया है।

-- डा. मेघ सिंह, एडीएसआइसी

मैं आज छुट्टी पर थी, इसके बाद भी जब मुझे बच्चा भर्ती होने की जानकारी मिली तो मैंने यहीं से दवाएं लिखकर भेजी थी।

-- डा. ऐश्वर्या, प्रभारी, एनआरसी

Edited By: Jagran