बरेली, जेएनएन। राजश्री मेडिकल कालेज में एमडी की पढ़ाई कर रहे डाक्टर की शनिवार को संदिग्ध परिस्थितियों में मौत हो गई। मृतक डाक्टर अवनीश राठी बागपत के दौगट के रहने वाले थे। बीते कुछ दिन पहले उन्हें कोविड-19 से निजात मिली थी। कालेज में वह हास्टल में रहते थे। हास्टल के कमरे में ही वह मृत अवस्था में पाए गए। हास्टल व मेडिकल कालेज प्रबंधन ने पुलिस की मौजूदगी में ताला तुड़वाया, वह मृत अवस्था में मिले। फतेहगंज पश्चिमी पुलिस मृतक डाक्टर का पोस्टमार्टम करा रही है।

संदिग्ध परिस्थितियों में एफसीआइ कर्मचारी की मौत: सीबीगंज में संदिग्ध परिस्थितियों में एक एफसीआइ कर्मचारी की मौत हो गई। उसका शव कई घंटे हाईवे किनारे एक चाय की दुकान पर पड़ा रहा। मौत से पहले कर्मचारी वहीं पर गिरकर तड़पता रहा और लोग तमाशबीन बने वहां खड़े रहे, लेकिन किसी ने पुलिस को घटना की सूचना नहीं दी। पुलिस ने मृतक के शव को पोस्टमार्टम के लिए भेजा है। घटना शुक्रवार दोपहर तीन बजे की है। बताया जाता है कि एफसीआइ में कर्मचारी 52 वर्षीय प्रकाश मूल रूप से उड़ीसा के रहने वाले थे। शुक्रवार दोपहर रामपुर रोड पर एक चाय की दुकान पर बैठे थे। इसी दौरान वह दुकान पर ही गिर पड़े और तड़पने लगे। तमाशबीन बने लोग वहां खड़े कर्मचारी को तड़पता देखते रहे लेकिन, किसी ने एंबुलेंस को फोन करने की जहमत नहीं उठाई। कुछ देर तड़पने के बाद उनकी मौत हो गई। सीबीगंज पुलिस के मुताबिक, मृतक के स्वजन उड़ीसा में रहते है और वह यहां किराए के मकान पर रह रहे थे। उनके स्वजन को सूचना दे दी गई है।

Edited By: Vivek Bajpai