बरेली, जेएनएन। Rohilkhand University News : महात्मा ज्योतिबाफुले रुहेलखंड विश्वविद्यालय में बाइक से फर्राटा भर रहे एक छात्र को रोकना एजूकेशन विभाग के प्रॉक्टर को महंगा पड़ गया। प्राॅक्टर ने आइडी मांगी तो छात्र बिफर पड़े। उनसे अभद्रता कर दी। मामला सपा नेत्री के भाई का होने पर कुछ ही देर में मामला राजनीतिक हो गया। सपा छात्र सभा के साथ मेेन बॉडी के पदाधिकारी भी यूनीवर्सिटी पहुंचे और चीफ प्रॉक्टर से बात की। बाद में एबीवीपी के कार्यकर्ताओं ने एकत्र होकर कार्रवाई की मांग की।

मंगलवार को विश्वविद्यालय में अभ्युदय योजना की कार्यशाला का आयोजन किया गया था। इसके चलते काफी गहमा गहमी थी। बाहरी छात्र छात्राओं व अन्य युवकों की विश्वविद्यालय में मौजूदगी आशंका को देखते हुए आइडी कार्ड चैक किए जा रहे थे। इसी दौरान कैंटीन की ओर से होटल मैनेजमेंट का एक छात्र बाइक से फर्राटा भरता हुआ वहां से गुजरा। वहां मौजूद एजूकेशन विभाग के प्रॉक्टर डा. विमल और डा. रामबाबू ने उसे रोककर आइडी कार्ड दिखाने को कहा। इस पर छात्र ने वहां रुककर प्रॉक्टरों से अभद्रता करनी शुरू कर दी।

इस पर उन्होंने छात्र को रोककर सूचना पुलिस को दी। छात्र के एक सपा नेत्री का भाई होने पर कुछ ही देर में सपा नेत्री व अन्य सपा नेता भी विश्वविद्यालय पहुंच गए। इसके बाद दोनों पक्ष चीफ प्रॉक्टर जे एन मौर्या के समक्ष पहुंचे। जहां काफी देर तक बात हुई। छात्र ने बताया कि वह उन्हें नहीं पहचानता था, इसलिए ऐसी गलती हुई। बाद में एबीवीपी के भी कुछ कार्यकर्ता विश्वविद्यालय पहुंचे। उन्होंने कार्रवाई की मांग की। इस संबंध में चीफ प्रॉक्टर जे एन मौर्या ने बताया कि बुधवार को दोनों प्रॉक्टर के लिखित बयान दर्ज किए जाएंगे। इसके बाद ही आगे निर्णय लिया जाएगा।

Indian T20 League

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

kumbh-mela-2021