Move to Jagran APP

Umesh Pal Murder Case: अब बढ़ गईं सद्दाम की मुश्किलें, अतीक गैंग के बाद उसके भाई अशरफ के साले की संपत्ति हुई चिह्नित

UP Crime News In Hindi अशरफ के साले सद्दाम की चार जमीन और कार चिह्नित की है। एक कार व चार प्रापर्टी को गैंगस्टर एक्ट के तहत कुर्क करने की कार्रवाई पुलिस करेगी। उमेश पाल हत्याकांड में अशरफ का साल सद्दाम भी आरोपित है और अभी बदायूं की जेल में बंद है। अतीक अहमद और अशरफ की हत्या हो चुकी है।

By Anuj Mishra Edited By: Abhishek Saxena Published: Mon, 10 Jun 2024 12:56 PM (IST)Updated: Mon, 10 Jun 2024 12:56 PM (IST)
Umesh Pal Murder Case: अतीक और अशरफ की फाइल फोटो। जागरण

जागरण संवाददाता, प्रयागराज/बरेली। अतीक गैंग के बाद उसके भाई अशरफ के साले सद्दाम की भी पांच चल व अचल संपत्ति चिह्नित हुई है। जेल में बंद सद्दाम ने पूरामुफ्ती के हटवा, सल्लापुर समेत कई गांव में जमीन बनाई है। पुलिस अब चिह्नित हुई एक कार व चार प्रापर्टी को गैंगस्टर एक्ट के तहत कुर्क करने की कार्रवाई करेगी। इस संबंध में बरेली पुलिस को भी रिपोर्ट भेजी जाएगी।

फरवरी 2023 में उमेश पाल और उसके दो सरकारी गनर की हुई हत्या के मामले में अशरफ का साला सद्दाम भी आरोपित है। बरेली जेल में वह अपने जीजा अशरफ की मदद करता था और शूटरों के भी संपर्क में था।

हत्याकांड के बाद जब पुलिस ने उसे वांछित घोषित किया तो फरार हो गया था। इसके बाद उस पर एक लाख रुपये का इनाम रखा गया था। गिरफ्तारी के बाद पहले बरेली जेल में रखा गया और फिर बदायूं जेल में ट्रांसफर कर दिया गया। वहीं, प्रयागराज पुलिस माफिया अतीक व अशरफ से जुड़े लोगों की नामी, बेनामी संपत्ति के बारे में लगातार छानबीन कर रही है।

ये भी पढ़ेंः Amroha Accident: आर्टिगा और बोलेरो की आमने-सामने भीषण भिड़ंत, गजरौला के चार यूट्यूबरों की मौत

ये भी पढ़ेंः UP Politics: जानिए कौन हैं बीएल वर्मा जो यूपी की ये हॉट सीट गंवाने के बाद भी मोदी सरकार में लगातार दूसरी बार मंत्री बने

कुछ दिन पहले पता चला कि सद्दाम ने भी अपराध के जरिए करोड़ों रुपये की चल व अचल संपत्ति बनाई है। गोपनीय स्तर पर छानबीन करते हुए एक कार व चार जमीन को चिन्हित किया गया है। अब इस प्रापर्टी के बारे में राजस्व विभाग से जानकारी लेकर रिपोर्ट तैयार की जाएगी और फिर गैंगस्टर एक्ट की धारा 14 (1) के तहत कुर्क करने की कार्रवाई होगी।


This website uses cookies or similar technologies to enhance your browsing experience and provide personalized recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.