बरेली, जेएनएन। पिता को खेत में खाना देने जा रही सात वर्षीय छात्रा को युवक ने दबोच लिया। मुंह दबाकर खेत में ले गया और दुष्कर्म का प्रयास किया। बच्ची की चीख सुनकर कुछ दूर खेत पर काम करने वाले लोग मौके पर पहुंचे तो आरोपित भाग निकला। परिजन छात्रा को लेकर चौकी पहुंचे लेकिन पुलिस ने टकरा दिया। मामले की जानकारी इंस्पेक्टर को हुई तो उन्होंने मुकदमा दर्ज कर आरोपित की तलाश शुरू कर दी। कुछ देर बाद ही खेत में छुपे आरोपित को गिरफ्तार कर लिया गया।

हाफिजगंज क्षेत्र के एक गांव निवासी किसान सोमवार सुबह खेत पर काम करने गए थे। सुबह आठ बजे केजी में पढऩे वाली उनकी सात वर्षीय बेटी उन्हें खाना देने खेत पर जा रही थी। आरोप है कि रास्ते में उसे एक युवक मुंह दबाकर खेत में खींच ले गया। जहां उसके साथ दुष्कर्म किया। बच्ची की चीख सुनकर आसपास खेतों पर काम करने वाले दौड़े तो आरोपित बच्ची को खेत में बेहोशी की हालत में छोड़कर भाग गया। वह परिजनों के साथ मौके पर पहुंचे। बच्ची को लेकर रिठौरा चौकी पहुंचे। परिजनों ने चौकी पुलिस कार्रवाई करने की बजाय टरकाने का आरोप लगाया। दो घंटे बाद कोई कार्रवाई नहीं हुई तो परिजन बच्ची को लेकर थाने पहुंचे। जिसके बाद इंस्पेक्टर ने तत्काल मुकदमा दर्ज कर बच्ची को मेडिकल के लिए भेजा। पुलिस ने आरोपित की तलाश शुरू की तो वह घर में नहीं मिला। बाद खेतों में छुपा मिल गया। पुलिस ने आरोपित के खिलाफ दुष्कर्म व पॉक्सो की धाराओं में मुकदमा दर्ज किया गया। इंस्पेक्टर हाफिजगंज महेंद्र सिंह ने बताया कि आरोपित को पकड़ लिया गया है। बच्ची का मेडिकल कराने के लिए जिला अस्पताल भेजा है। आरोपित अविवाहित है।

 

Posted By: Abhishek Pandey

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस