जेएनएन, बरेली: अयोध्या मामले में सुप्रीम कोर्ट के फैसले के बाद देश के लोगों ने जिस तरह से एकता और सांप्रदायिक सौहार्द की मिसाल पेश की उससे पड़ोसी मुल्क पाकिस्तान बेचैन हो गया है। फैसले पर अमन पसंद भारतीय मुसलमानों की सकारात्मक राय पाकिस्तानियों को रास नहीं आई। अब वह देश का माहौल खराब करने के लिए भारतीय मुस्लिम युवाओं को भड़काने की नापाक कोशिश में जुट गया है। जरिया फेसबुक को बनाया है।

ऐसे पता चले Facebook Group

बरेली में ऐसे चार फेसबुक ग्रुप पता चले हैं, जिनमें तीन सौ से अधिक पाकिस्तानी सक्रिय हैं। एक फेसबुक ग्रुप तो पाकिस्तान के अली शाह नाम के शख्स ने खुद विवादित ढांचे के नाम पर तैयार किया। जिसमें बरेली, अलीगढ़, अयोध्या, हैदराबाद, दिल्ली, लखनऊ सहित देशभर के 1900 से ज्यादा मुस्लिम युवाओं को जोड़ लिया है। ग्रुप में तमाम विवादित पोस्ट भी किए गए हैं।

Post डिलीट कर भागा Pakistani

पाकिस्तान के एहतेशाम भाटी नाम के एक शख्स ने बरेली मुस्लिम ग्रुप में आयोध्या फैसले पर आपत्तिजनक टिप्पणी करते हुए पोस्ट डाली। विवादित ढांचे को लेकर भी कई बातें कहीं। इस पोस्ट को 12 लोगों ने लाइक करके छोड़ दिया वहीं तारिक अंसारी के नाम भारतीय मुस्लिम युवा ने उसे जवाब देते हुए कहा कि यह मामला हमारे देश का है। तुम अपने काम से काम मतलब रखो।

Tariq ने विरोध कर दिया करारा जवाब

तारिक ने आगे लिखा कि भारतीय हिंदू-मुस्लिम भाई हैं और हमेशा रहेंगे। इसके बाद कुछ अन्य लोग भी तारिक के समर्थन में आ गए तो पाकिस्तानी यूजर ने पोस्ट को ही डिलीट कर दिया। चार ग्रुप में एक तो हाल ही में पाकिस्तानी युवक ने बनाकर भारतीय युवाओं को जोड़ा जिसमें बरेली के भी हें। तीन अन्य ग्रुप पहले से बने थे जिनमें पाकिस्तानी जुड़े थे। 

Posted By: Abhishek Pandey

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप