बरेली, जेएनएन। Asuddin Owaisi Controvirsial Statement : ऑल इंडिया मजलिस ए इत्तेहादुल मुस्लिमीन के राष्ट्रीय अध्यक्ष असदुद्दीन ओवैसी के खिलाफ बरेली से मुकदमा दर्ज करने की मांग उठी है।उनके खिलाफ बरेली के अधिवक्ता ने भड़काऊ भाषण देने का आरोप लगाते हुए एसएसपी को तहरीर दी है।इस मामले में एसएसपी ने कोतवाली पुलिस को जांच साैंप दी है।अफसरों के अनुसार जांच के बाद ही मामले में आगे की कार्रवाई की जाएगी।

बरेली में छह जनवरी को एआइएमआइएम के राष्ट्रीय अध्यक्ष असुद्दीन ओवैसी ने मिशन कंपाउंड में जनसभा को संबोधित किया था।शिकायत करने वाले अधिवक्ता हरीश कुमार एडवोकेट ने एसएसपी से कहा कि जनसभा में ओवैसी ने भड़काऊ भाषण दिया।हरीश कुमार ने तहरीर में लिखा कि भाषण का वीडियो देखा व सुना जिसमे ओवैसी कह रहे हैं कि हमेशा योगी मुख्यमंत्री नहीं रहेंगे।हमेशा मोदी प्रधानमंत्री नहीं रहेंगे।हिंदुओं तब तुम्हारी हिफाजत कौन करेगा।योगी मठ में चले जाएंगे, मोदी पहाड़ों में चले जाएंगे।तब हिंदुओं तुम्हारी हिफाजत कौन करेगा।हम मुसलमान तुम्हारे जुल्मों को याद रखेंगे।

आरोप है कि यह बयान देश व प्रदेश में हिंसा भड़काने वाला है जिसमे हिंदुओं को जान से मारने की धमकियां व कत्ले आम की धमकियां खुलेआम दी जा रही हैं। यह समाज में सौहार्द बिगाड़ने का षडयंत्र है। एसएसपी रोहित सिंह सजवाण ने कोतवाली पुलिस को जांच के आदेश दिये हैं। इंस्पेक्टर कोतवाली हिमांशु निगम ने कहा कि तहरीर मिलने पर जांच कर आगे की कार्रवाई की जाएगी।

सपा बसपा और कांग्रेस पर भी साधा था निशाना

ऑल इंडिया मजलिस ए इत्तेहादुल मुस्लिमीन के राष्ट्रीय अध्यक्ष असदुद्दीन ओवैसी ने सपा बसपा कांग्रेस पर भी निशाना साधा था। उन्होंने कहा था कि मुसलमानों को सिर्फ वोट के लिए ही सियासी पार्टियां इस्तेमाल कर रही है। मैं तुम्हें नेता बनाने आया हूं, प्रदेश में मुसलमानों की स्थिति दलितों से भी खराब है। सपा मुसलमानों के लिए मुशायरा करा रही है।भाजपा को मुस्लिम वोटों की जरूरत नहीं।

उन्होंने पार्टियों के गठबंधन पर भी निशाना साधा था। कांग्रेस की मैराथन पर चुटकी लेते हुए बोले थे राहुल तो यहां से भागकर केरल चले गए। असदुद्दीन ओवैसी ने कहा था मुस्लिम वोट का खजाना किसी का नहीं है।70 साल में वोट लेने के बाद भी मुस्लिमों की ओर किसी ने नहीं देखा। सपा, भाजपा, बसपा, कांग्रेस को एक ही बताया था।

Edited By: Ravi Mishra